Sunday , 11 April 2021

नेता प्रतिपक्ष ने सीएम को बताया पत्र जीवी तो कांग्रेस ने रमन को ठहरा दिया कमीशन जीवी

रायपुर (Raipur) (Raipur) . छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री (Chief Minister) भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की ढाई करोड़ जनता के हक अधिकार के लिए केंद्र की मोदी सरकार को पत्र लिखते हैं. चाहे किसानों के धान खरीदी का मामला हो, किसानों को धान की कीमत एक मुश्त प्रति क्विंटल 2500 रु. देने पर प्रतिबंध लगाने का मामला हो.

किसान सम्मान निधि से छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के लाखों किसानों को बेवजह बाहर करने का मामला हो, केंद्र सरकार (Central Government)द्वारा रोकी गई छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के हिस्से की जीएसटी एवं जीएसटी छतिपूर्ति राशि का मसला हो. कोरोना संकटकाल में प्रवासी मजदूरों के घर वापसी का मामला हो एफसीआई में 60 लाख मैट्रिक टन चावल लेने की सैद्धांतिक सहमति का मामला हो लगातार मुख्यमंत्री (Chief Minister) भूपेश बघेल की सरकार ने केंद्र सरकार (Central Government)को पत्र लिखकर छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के हक की बात कही है. बड़ी दुर्भाग्य की बात है छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की जनता ने 15 साल तक जिस भाजपा को सत्ता की जिम्मेदारी दी, वर्तमान में भाजपा को 9 सांसद (Member of parliament) दिए. भाजपा के दो राज्य सभा सदस्य भी है. लेकिन जब केंद्र सरकार (Central Government)छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के साथ भेदभाव करती है तब यही सब भाजपा के सांसद (Member of parliament) मौनजीवी बन जाते हैं. भाजपा के नेता छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में जनता के हमदर्द होने का राजनीतिक नौटंकी तो करते हैं लेकिन केंद्र सरकार (Central Government)के सामने जब छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के हित की बात रखने की बारी आती है तब इनकी बोलती बंद हो जाती है इनके मुहँ में दही जम जाता है.

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि रमन सिंह मुख्यमंत्री (Chief Minister) थे तब 15 साल तक कमीशनजीवी भ्रष्टाचार जीवी बने रहे हैं अब सत्ता से बेदखल होने के बाद वे छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) विरोधीजीवी बन गए है. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के हित की हर बात का विरोध करते है. पूर्व मुख्यमंत्री (Chief Minister) डॉ. रमन सिंह और भाजपा के नेता छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कला संस्कृति परंपरा तीज त्योहारों के साथ-साथ किसानों के धान खरीदी सहित अनेक जनकल्याणकारी योजनाओं का विरोध कर रहे हैं. भाजपा नेता अपने छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) विरोधी मंशा को पूरा करने के लिए केंद्रीय शक्तियों का दुरुपयोग कर रहे हैं और संघीय व्यवस्थाओं को चकनाचूर कर मोदी सरकार भी छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के हित को बाधा पहुंचाने का काम कर रहे हैं. रमन सिंह छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के हित को बाधित करने षड्यंत्रजीवी की भूमिका में है, उनके साथ भाजपा के 9 सांसद (Member of parliament) भी छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के साथ केंद्र द्वारा किये जा रहे भेदभाव पर मौनजीवी है.

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा नेताओं को मुख्यमंत्री (Chief Minister) भूपेश बघेल के द्वारा केंद्र सरकार (Central Government)को लिखे जा रहे पत्रों से तकलीफ हो रही है. मुख्यमंत्री (Chief Minister) भूपेश बघेल जब भी केंद्र सरकार (Central Government)को पत्र लिखते हैं तब भाजपा के नेताओं की बेचैनी बढ़ जाती है घबराहट बढ़ जाती है क्योंकि मुख्यमंत्री (Chief Minister) भूपेश बघेल सरकार के पत्र से मोदी भाजपा सरकार की जुमलाबाजी धोखा बाजी की पोल खुल जाती है और भाजपा की काली करतूत जनता के सामने आ जाती है. 15 साल तक छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में कमीशनजीवी, भ्रष्टाचारजीवी लोगों की सरकार रही है और बीते 7 साल से केंद्र में जुमलाजीवी की सरकार है जो जनता से किए वादे को जुमला मानकर भूल जाती है.

Please share this news