Thursday , 3 December 2020

दिल्ली में जनवरी तक जारी रह सकता हैं वर्क फॉर्म होम, वायु प्रदूषण वजह

नई दिल्ली (New Delhi) . देश की राजधानी दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को देखकर केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड टास्क फोर्स ने ईपीसीए को वर्क फॉर्म होम जनवरी तक जारी रखने की सलाह दी है. बता दें कि ईपीसीए सारे फैसले सीपीसीबी के तहत ही लेता है. सीपीसीबी ने बैठक के जरिए मौसम विभाग को लगातार प्रदूषण बढ़ने की चेतावनी देकर कहा है कि इसमें सुधार होने की कोई आंशाका नहीं है. इस देखकर सीपीसीबी ने ईपीसीए को वर्क फॉर्म होम जनवरी तक बढ़ाने का सुझाव दिया है. इस दौरान आईटी कंपनियां वर्क फॉर्म होम कर रही है,इस जनवरी तक जारी रखे जानें को कहा जा रहा है.

गुरूग्राम की आईटी कंपनी में काम कर रहे कर्मचारी ने कहा कि घर से काम करने के चक्कर में ऑफिस के सहयोगियों से बातचीत बिल्कुल बंद हो गई है और घर में केवल काम ही काम कर रहे है. ऑफिस में जहां काम के साथ एंटरटेनमेंट भी होता था वहीं अब घर में केवल काम ही काम है. वहीं घर से काम करने में न ही ऑफिस जैसा माहौल है और न ही वैसी सीटिंग अरेंजमेंट्स. इन सबके कारण काफी मानसिक दबाव बनता जा रहा है.

वहीं सीपीसीबी के अधिकारी ने बताया की इस वक्त वर्क फॉर्म होम काफी फांयदेमंद साबित होगा. इससे पब्लिक ट्रांसपोर्ट में कमी आएगी और साथ ही कोरोना संकट के बीच लोग सक्रंमण के खतरे से भी बचे रह सकते है. वहीं सोशल मीडिया (Media) और समीर एप पर मिल रही कई शिकायतों पर भी सिविक एजेंसियों को नजर रखने की सलाह दी है.