Tuesday , 27 October 2020

दिल्ली में कोरोना जांच के लिए डॉक्टर का पर्चा दिखाना जरूरी नहीं : हाईकोर्ट


नई दिल्ली (New Delhi) . दिल्ली हाईकोर्ट ने मंगलवार (Tuesday) को आदेश दिया कि राजधानी दिल्ली में कोरोना (Corona virus) (कोविड-19 (Covid-19) ) संक्रमण का पता लगाने के लिए आरटी पीसीआर टेस्ट के लिए स्वेच्छा से जाने वालों के लिए अब से डॉक्टर (doctor) का पर्चा अनिवार्य नहीं होगा. अब तक किसी व्यक्ति द्वारा कोरोना जांच कराने के लिए डॉक्टर (doctor) का पर्चा या बीमारी के लक्षण होना जरूरी था.

जस्टिस हेमा कोहली और सुब्रमण्यम प्रसाद की बेंच ने कहा कि कोविड-19 (Covid-19) जांच कराने के इच्छुक लोगों को दिल्ली में निवास प्रमाणपत्र के तौर पर अपना आधार कार्ड ले जाना होगा और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद द्वारा निर्धारित फॉर्म भरना होगा. हाईकोर्ट ने कहा कि दिल्ली में कोरोना (Corona virus) के मामलों की संख्या में तेजी से वृद्धि हुई है ऐसे में जो भी लोग स्वेच्छा से अपनी कोरोना जांच कराना चाहते हैं उनके लिए निजी प्रयोगशालाओं को प्रतिदिन 2,000 कोविड-19 (Covid-19) टेस्ट की अनुमति देने के लिए कहा गया है. यह भी कहा गया है कि दिल्ली सरकार (Government) के पास प्रतिदिन लगभग 12,000 टेस्ट की क्षमता उपलब्ध है.