Sunday , 11 April 2021

कैबिनेट ने बंद किए गए कोरबा पूर्व विद्युत संयंत्र की भूमि के उपयोग के लिए ऊर्जा विभाग को किया अधिकृत

कोरबा .छत्तीसगढ़ राज्य सरकार (State government) के मंत्रि परिषद ने बंद कर दिए गए कोरबा पूर्व विद्युत संयंत्र की भूमि के उपयोग के लिए ऊर्जा विभाग को अधिकृत किया है. यहां बताना होगा कि 31 दिसम्बर, 2020 को छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर जनरेशन कंपनी लिमिटेड के कोरबा स्थापित कोरबा पूर्व संयंत्र की 120 मेगावाट क्षमता दो इकाइयों को बंद किया गया था.

इसके पूर्व 50- 50 मेगावाट की चार यूनिट्स को बंद किया गया था. गुरुवार (Thursday) को मंत्रिपरिषद द्वारा 120 मेगावाट क्षमता वाली दोनो इकाइयों को बंद करने हेतु कंपनी के संचालक मण्डल द्वारा लिए गए निर्णय का अनुसमर्थन किया गया तथा पॉवर प्लांट को बंद करने के फलस्वरूप उपलब्ध रिक्त भूमि के वैकल्पिक उपयोग पर निर्णय केे लिए ऊर्जा विभाग को अधिकृत करने का निर्णय लिया गया.

संयंत्र के उपकरणों एवं कलपुर्जों की बिक्री की गई है. बताया गया है कि राज्य सरकार (State government) की बंद हो चुके संयंत्र की भूमि पर नया प्लांट लगाने की कोई योजना नहीं है. इसी तरह मंत्रि परिषद ने छत्तीसगढ़ विद्युत शुल्क(संशोधन) अधिनियम 2021 के प्रारूप का भी अनुमोदन किया है.

Please share this news