Wednesday , 23 June 2021

बिजली बंद होने से जलप्रदाय व्यवस्था प्रभावित

भोपाल (Bhopal) . आंधी और बरसात के कारण गुरुवार (Thursday) शाम को ‎बिजली बंद हो जाने के कारण जलप्रदाय व्यवस्था प्रभावित हो गई. इस वजह से राजधानी के 50 इलाकों में शुक्रवार (Friday) को सुचारु रुप से जल प्रदाय नहीं हो सका. इन क्षेत्रों के रहवा‎सियों को पानी के अभाव में ‎परेशानी का सामना करना पडा. प्राप्त जानकारी के अनुसार, कोलार जलप्रदाय परियोजना के एमएसीटी (मैनिट) फीडर एवं मंडीदीप फीडर पर गुस्र्वार शाम को 7.20 से 8.20 बजे तक एक घंटा बिजली आपूर्ति गड़बड़ा गई. इस कारण कोलार जलप्रदाय संयंत्र के पंप बंद हो गए. लिहाजा, शुक्रवार (Friday) को जलापूर्ति बाधित हुई.

नगर निगम के अनुसार 50 से अधिक रहवासी इलाकों में शुक्रवार (Friday) को जलप्रदाय नहीं हुआ. इन इलाकों में सुबह के समय जलप्रदाय किया जाता है. ‎जिन क्षेत्रों में जलप्रदाय नहीं हो सका उनमें अरेरा कॉलोनी (ई-1 से ई-5), रेलवे (Railway)कॉलोनी हबीबगंज, 1100 क्वॉर्ट्स, चार इमली, पंचशील नगर, चांदबड़, पीजीबीटी क्षेत्र, निशातपुरा, कॉजी कैम्प, पुराना बस स्टैंड, बाल विहार, स्टेशन बजरिया, हबीबगंज रेलवे (Railway)स्टेशन, जनता क्वॉर्ट्स, झुग्गी बस्ती, मीरा नगर, नेहरू नगर, वैशाली नगर, कोटरा शासकीय आवास, बघीरा अपार्टमेंट, साउथ टीटी नगर, 228 क्वॉर्ट्स, अंबेडकर नगर, सरस्वती नगर, 25वीं बटालियन, गीतांजलि कॉम्पलेक्स, संजय कांप्लेक्स, शाहपुरा ए, बी व सी सेक्टर, गुलमोहर, त्रिलंगा, ई-7 एक्सटेंशन, लखेरापुरा, मारवाड़ी रोड, भोईपुरा, मंगलवार (Tuesday) ा, इतवारा, बुधवार (Wednesday) ा, इस्लामपुरा, खटीकपुरा आदि क्षेत्र शा‎मिल है. जलप्रदाय नहीं होने के कारण लोगों के सामने पानी की समस्या खड़ी हो गई.

अधिकारियों के अनुसार पंप बंद होने के कारण टंकियां नहीं भर पाई है. इस कारण पेयजल प्रदाय करने में दिक्कतें आ रही है और 50 से अधिक क्षेत्रों में जलप्रदाय नहीं किया जा सका है. शनिवार (Saturday) को व्यवस्था बहाल कर दी जाएगी. हालांकि, यदि समय बचा तो निगम जलप्रदाय कर भी सकता है. बता दें कि जिन 50 क्षेत्रों में जलप्रदाय नहीं हो सका. वहां दो लाख से अधिक आबादी रहती है, यानी इतनी आबादी के सामने एक दिन के लिए पेयजल संकट खड़ा होगा. हालांकि, नगर निगम ने कर्मचारियों के माध्यम से पेयजल प्रदाय व्यवस्था बाधित होने की जानकारी पहले से ही लोगों को दे दी थी.

Please share this news