Wednesday , 14 April 2021

इटावा में दिखी नगर पालिका की लापरवाही, नाला चोक होने से कई घरों में घुसा पानी

इटावा . इटावा जिले में नगर पालिका की बड़ी लापरवाही सामने आई है. ‎जिले के मेवाती टोला में एक नाला चोक हो गया और उसका पानी आसपास के करीब 50 घरों के अंदर घुस गया. इसकी सूचना के बाद नगर पालिका ने चोक नाले को खुलवाने के लिए 3 पम्प, 4 जेसीबी मशीनों के अलावा नगर पालिका के सैकडों कर्मचारियों को लगाया गया. वहीं, पूरे महीने में लोगों के घरों में नाले का पानी भरने से प्रशासनिक अफसरों में हडंकप मच गया. इस बारे में मेवाती मोहल्ले की रहने वाली सरीना बेगम ने बताया कि हम लोग सुबह 8 बजे से घर के बाहर हैं और घर जाने का कोई रास्ता नहीं है. ऐसे में जब तक नाले का पानी साफ नहीं हो जाता तब तक घर जाना संभव नहीं है. बताया जा रहा है कि नाले में कचरा फंसने से यह चोक हुआ है. इसके कारण आसपास के मकानों में पानी भर गया. नाले का पानी जब सड़क पर आया तो लोग फंस गए. ऐसे में ना तो कोई घर से बाहर निकल सकता था और ना ही कोई सब्जी लेने बाजार जा सका. इसे नगर पालिका की बड़ी लापरवाही माना जा रहा है.

कहा जा रहा है ‎कि पालिकाकर्मी इस नाले में मना करने के बावजूद भी कचड़ा लाकर डालते थे, जिसके कारण ये समस्या खड़ी हो गई है. इस घटना के बाद लोगों ने नाराजगी जाहिर की है. एसडीएम ने बताया कि चोक नाले को खुलवाने के लिए 3 पम्प, 4 जेसीबी मशीनों के अलावा नगर पालिका के लगभग सैकडों कर्मचारी लगे हैं तो वहीं बड़ा सवाल खड़ा होता है एक ओर साफ सड़कों पर झाड़ू लगाकर नगर पालिका स्वच्छ भारत का नारा देती है और दूसरी ओर इस तरह की जमीनी हकीकत सामने आने का बाद धरातल पर स्वच्छ भारत मिशन पूरी तरह फेल होता नजर आ रहा है.

Please share this news