Wednesday , 30 September 2020

अमेरिका की संघीय अदालत ने भारतीय नागरिक सहित 12 विदेशी लोगों पर अवैध तरीके से मतदान करने का आरोप लगाया


न्यूयॉर्क . अमेरिका की संघीय अदालत में भारतीय नागरिक सहित 12 विदेशी लोगों पर 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में अवैध तरीके से मतदान करने का आरोप लगाया गया है. उत्तरी कैरोलाइना के मिडल जिले की जिला अदालत में 58 वर्षीय बैजू पी.थामस और 11 अन्य विदेशी नागरिकों पर 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में अवैध रूप से मतदान करने का आरोप पिछले महीने लगाया गया. अमेरिकी आव्रजन एवं सीमाशुल्क प्रवर्तन (आईसीई) गृह सुरक्षा जांच (एचएसआई) के अनुसार अगर ये दोषी साबित होते हैं,तब इन्हें अधिकतम एक साल की जेल की सजा हो सकती है और 1,00,000 अमेरिकी डॉलर (Dollar) का जुर्माना लग सकता है.

अमेरिकी कानून के मुताबिक देश में गैर नागरिक मतदान के लिए पंजीकरण कराने या संघीय चुनाव में मतदान करने के पात्र नहीं हैं. भारतीय मूल के 57 वर्षीय रूब कौर अतर सिंह भी उन सात विदेशी नागरिकों में शामिल हैं जो उत्तरी कैरोलाइना में 2016 के संघीय चुनाव में मतदान करने के आरोप का सामना कर रहे हैं. अतर सिंह मलेशिया से हैं. सिंह उन आरोपियों में शामिल हैं, जिस पर संघीय ग्रांड ज्यूरी ने आरोप लगाया है. उन पर अमेरिकी नागरिकता का गलत दावा या मतदान पंजीकरण आवेदन में गलत जानकारियां देने और 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में अवैध तरीके से मतदान करने का आरोप है. अगर वह दोषी पाई जाती हैं तो उन्हें संघीय जेल में अधिकतम छह साल की जेल की सजा हो सकती है और 350,000 अमेरिकी डॉलर (Dollar) का जुर्माना लग सकता है.