Thursday , 26 November 2020

पूर्व अधिकारी का व्यंगचित्र बदनामी कारक था, शिवसैनिकों की प्रतिक्रिया भी उसी तरह थी : राउत


मुंबई (Mumbai) . महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री (Chief Minister) उद्धव ठाकरे का कार्टून शेयर करने पर नौसेना के पूर्व अधिकारी की पिटाई के मामले पर शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा है कि उस शख्स ने मुख्यमंत्री (Chief Minister) उद्धव ठाकरे के खिलाफ एक व्यंगचित्र (कार्टून) शेयर किया था, व्यंगचित्र बदनामी कारक था, शिवसैनिकों की प्रतिक्रिया भी उसी तरह थी. उन्होंने कहा कि कि प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, राज्यपाल, मुख्यमंत्री (Chief Minister) के पदों पर टीका करते समय अभिव्यक्ति की आज़ादी के नाम पर अगर मनमानी कर कुछ भी दिखाया जाएगा तो लोगों के संयम का बांध टूट जाता है इसलिए ज़रूरी है कि सभी लोग एक दूसरे का आदर करें.

शिवसेना नेता ने अपने ट्वीट में लिखा, “महाराष्ट्र (Maharashtra) नियमों का पालन करने वाला राज्य है. कोई भी अगर कानून हाथ में लेता है तो उसपर कार्रवाई की जाती है, यही मुख्यमंत्री (Chief Minister) उद्धव ठाकरे की नीति है. कल एक पूर्व नौसेना के अधिकारी के साथ मारपीट की घटना सामने आई. उस शख्स ने मुख्यमंत्री (Chief Minister) उद्धव ठाकरे के खिलाफ एक व्यंगचित्र (कार्टून) शेयर किया था. व्यंगचित्र बदनामी कारक था, शिवसैनिकों की प्रतिक्रिया भी उसी तरह थी.”

संजय राउत ने आगे लिखा, ” फिर भी इस पर तुरंत कार्रवाई कर आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. विपक्ष की ओर से इस मामले पर राजनीति करना दुर्भाग्यपूर्ण है. दोनों ही तरफ के लोगों को संयम बरतने की ज़रूरत है. प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, राज्यपाल, मुख्यमंत्री (Chief Minister) के पदों पर टीका करते समय अभिव्यक्ति की आज़ादी के नाम पर अगर मनमानी कर कुछ भी दिखाया जाएगा तो लोगों के संयम का बांध टूट जाता है.”