Monday , 10 May 2021

सुप्रीम कोर्ट पैनल की किसानों के साथ पहली बैठक 21 जनवरी को

नई दिल्ली (New Delhi) . नए कृषि कानूनों को लेकर सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) द्वारा बनाई गई समिति की किसानों के साथ 21 जनवरी को पहली बैठक होगी. सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में किसान आंदोलन के बाद याचिकाओं की सुनवाई के दौरान कृषि कानूनों के अमल पर रोक लगाते हुए समिति का गठन किया है. इस समिति की मंगलवार (Tuesday) को बैठक हुई, जिसमें 21 जनवरी को पहली बैठक का निर्णय किया गया.

समिति के सदस्य अनिल घनवट ने बताया कि मंगलवार (Tuesday) को हुई बैठक में तय किया गया कि किसानों के साथ पहली बैठक 21 जनवरी को सुबह 11:00 बजे होगी. इस बैठक में जो किसान संगठन शामिल नहीं हो सकेंगे, हम उनकी राय वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जानेंगे. घनवट ने कहा कि हमें सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) के निर्देश हैं कि हमें सभी किसान संगठनों, जो कानूनों का समर्थन कर रहे हैं एवं जो कानूनों का विरोध कर रहे हैं, हितधारकों को सुनना है तथा रिपोर्ट तैयार करके सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) को भेजनी है. उन्होंने कहा कि पैनल केंद्र और राज्य सरकारों के अलावा किसानों व सभी अन्य हितधारकों की कृषि कानूनों पर राय जानना चाहती है. पैनल के सदस्य सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) में रिपोर्ट के अलावा अपनी निजी राय को अलग रखेंगे.

उल्लेखनीय है कि सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने घनवट के अलावा भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के अध्यक्ष भूपिंदर सिंह मान, कृषि-अर्थशास्त्रियों अशोक गुलाटी और प्रमोद कुमार जोशी को समिति में रखा है. हालांकि, भूपिंदर सिंह किसानों का समर्थन करते हुए पत्र लिखकर समिति से अलग हो गए थे.

Please share this news