Monday , 10 May 2021

कुछ वक्र दृष्टा लोग इसे भी वक्र दृष्टि से देख रहे हैं: अमित शाह

नई दिल्ली (New Delhi) . केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि दुनिया में अगर कोरोना के खिलाफ सबसे सफल जंग कहीं लड़ी गई है तो वो भारत के अंदर लड़ी गई. कर्नाटक (Karnataka) दौरे पर पहुंचे केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने कहा कि ‘एक साल से ज्यादा समय से हम कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं. विश्व में बहुत से लोगों की जान गई. प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व में दुनिया में अगर कोरोना के खिलाफ सबसे सफल जंग कहीं लड़ी गई है तो वो भारत के अंदर लड़ी गई है.’

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा है कि मुझे दुख है कि कुछ वक्र दृष्टा लोग इसे भी वक्र दृष्टि से देख रहे हैं. मैं इन सब से प्रार्थना करता हूं कि पूरे देश को विश्वास दिलाने की जरूरत है. पूरे देश को वैक्सीन के अभियान से जोड़ने की जरूरत है. ऐसी कोई बात न करें जिससे दो विचार जनता के सामने आएं. अमित शाह ने कहा कि वैक्सीनेशन का कार्य शुरू हो गया है. विश्व में कोविड से सबसे कम प्रतिशत मौतें भारत में हुई हैं और सबसे ज्यादा लोग ठीक होकर अपने परिवार के पास लौटे हैं. इसके अलावा केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आज मेरे लिए बहुत खुशी की बात है कि सीआरपीएफ (Central Reserve Police Force) के रैपिड एक्शन फोर्स की 97वीं बटालियन का यहां शिलान्यास हो रहा है. 230 करोड़ की लागत से यहां निर्माण कार्य होगा.

प्रशासनिक भवन, निवास केंद्र, अस्पताल, केंद्रीय स्कूल और खेल-कूद के स्टेडियम यहां खुलने जा रहे हैं. कोरोना (Corona virus) महामारी (Epidemic) के खिलाफ शुरू किए गए दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के तहत शनिवार (Saturday) को पहले चरण में भारत में अग्रिम मोर्चों पर तैनात स्वास्थ्य कर्मियों को टीके की पहली खुराक दी गई. इसके साथ ही 10 महीनों में लाखों जिंदगियों और रोजगार को लील लेने वाली इस महामारी (Epidemic) के खात्मे की उम्मीद जगी है. भारत में करीब एक करोड़ लोगों के संक्रमित होने और 1.5 लाख लोगों की मौत के बाद भारत ने कोविशील्ड और कोवैक्सीन टीके के साथ महामारी (Epidemic) को मात देने के लिए पहला कदम उठाया है और देशभर के स्वास्थ्य केंद्रों पर टीकाकरण किया जा रहा है.

Please share this news