Sunday , 18 April 2021

किराया बढ़ाने की खबरों पर रेलवे का कड़ा बयान

नई दिल्‍ली . भारतीय रेलवे (Railway)ने इस बात का पुरजोर तरीके से खंडन कर दिया है कि पैसेंजर ट्रेनों का किराया बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है. कोरोना लॉकडाउन (Lockdown) के बाद से देश में पैसेंजर ट्रेन अभी नियमित रूप से शुरू नहीं हुई हैं.

रेल सेवाओं को देशभर में धीरे-धीरे सामान्‍य बनाया जा रहा है. कोरोना दिशानिर्देशों का पालन करते हुए लोग आवाजाही के लिए सावधानी के साथ ट्रेनों में यात्रा कर रहे हैं. थोड़ी असुविधा पैसेंजर ट्रेनों को लेकर है, जिन्हें सुचारू नहीं किया जा सका है. इसी माहौल के बीच ऐसी कयासबाजी हो रही है कि रेलवे (Railway)पैसेंजर ट्रेनों का किराया बढ़ा सकती है.

रेलवे (Railway)ने जारी किया बयान

पैसेंजर ट्रेनों का किराया बढ़ाए जाने की कयासबाजी के बीच भारतीय रेलवे (Railway)का स्पष्टीकरण बयान आया है. जिसके मुतबिक, भारतीय रेलवे (Railway)ने ऐसी किसी संभावना से इनकार किया और ऐसी खबरों को फैलने से रोकने की अपील की.

भारतीय रेलवे (Railway)ने कहा कि मीडिया (Media) के एक वर्ग में यह खबर दी गई है कि यात्री किराया में कुछ बढ़ोतरी की संभावना है. यह खबर निराधार और तथ्यहीन है. किराया बढ़ोतरी का ऐसा कोई मामला विचाराधीन नहीं है. भारतीय रेलवे (Railway)ने आगे कहा- मीडिया (Media) को यह सलाह दी जाती है कि ऐसी खबर को प्रकाशित या सर्कुलेट ना किया जाए.

भारतीय रेलवे (Railway)की ट्रेन सेवाएं कब तक सामान्य होंगी, इस बारे में रेलवे (Railway)ने पिछले महीने कहा था कि इस संबंध में कोई निश्चित तारीख बता पाना संभव नहीं है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, ट्रेन सेवाएं सीमित करने के कारण वर्ष 2019 की तुलना में वर्ष 2020 में दिसंबर तक यात्रियों (Passengers) से होने वाली आय में 87 फीसदी की कमी दर्ज की गई थी.


News 2021

Please share this news