Thursday , 1 October 2020

रेल सेवा आम आदमी की लाइफ लाइन है इनमें कटौती नहीं विस्तार करें : दीयाकुमारी

राजसमन्द. सांसद (Member of parliament) दीयाकुमारी ने कहा कि रेल सेवा आम आदमी की लाइफ लाइन मानी जाती है, पहले से मिल रही रेल सेवाओं में कटौती करने के स्थान पर विस्तार करना चाहिए ताकि जनता को और अधिक राहत मिल सके. मौका था दिल्ली में रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी से मुलाकात का.

मुलाकात के दौरान सांसद (Member of parliament) दीयाकुमारी ने राजसमन्द संसदीय क्षेत्र की विभिन्न रेल समस्याओं के बारे में विस्तार से चर्चा की. मुख्य रूप से मेड़ता और डेगाणा में लीलण एक्सप्रेस का रूट परिवर्तित न करते हुए उसे पुराने रुट के अनुसार ही चलाये जाने तथा दिल्ली से बाड़मेर तक विस्तारित की गई हावड़ा एक्सप्रेस ट्रेन का ठहराव मेड़ता रोड जंक्शन व डेगाना जंक्शन में दिए जाने के साथ ही जेतारण में ट्रेनों के ठहराव और बर-बिलाड़ा नई रेल लाइन, ब्यावर में ट्रेनों के ठहराव और राजसमन्द में ब्रॉडगेज कार्य शुरू करने की मांग रखी.

संसदीय क्षेत्र मीडिया (Media) संयोजक मधुप्रकाश लड्ढा ने बताया कि राजसमंद सांसद (Member of parliament) दीयाकुमारी ने रेल राज्य मंत्री सुरेश सी. अंगडी के साथ ही रेलवे (Railway)बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव से भी मुलाकात कर गाड़ी संख्या 12467/12468 लीलण एक्सप्रेस के हाल ही में किये गये मार्ग परिवर्तन के आदेश को निरस्त कर पूर्व के मार्ग पर यथावत रखने एंव गाड़ी संख्या 12333/12334 हावडा- आनन्दविहार के हाल ही में बाड़मेर तक हुए विस्तार के आदेश में डेगाना और मेड़ता रोड़ जंक्शन पर ठहराव देने की मांग की. वहीं सांसद (Member of parliament) ने बुटाटी धाम, मीरा नगरी मेड़ता एवं डेगाना व आस पास के यात्रियों (Passengers) को होने वाली भारी असुविधा के बारे में भी अवगत कराया.

गौरतलब है कि जयपुर (jaipur) से जैसलमेर के बीच लीलण एक्सप्रेस संचालित है जिसमें राजसमंद लोकसभा (Lok Sabha) क्षेत्र के डेगाना, मेड़ता रोड़ एवं रेण रेलवे (Railway)स्टेशन से बड़ी संख्या में यात्री एवं धार्मिक श्रृद्धालु अपनी यात्रा करते है, ऐसे में इस ट्रेन के मार्ग परिवर्तन से क्षेत्रवासियों में रोष है.