Monday , 10 May 2021

आसमान में साथ गरजेंगे भारत और फ्रांस के राफेल लड़ाकू विमान

नई दिल्ली (New Delhi) . भारत और फ्रांस की वायु सेनाएं 20 से 24 जनवरी तक राजस्थान (Rajasthan)के जोधपुर (Jodhpur) में एयरफोर्स स्टेशन पर संयुक्त अभ्यास करेंगी. अधिकारियों ने कहा है कि दोनों देशों के बीच संयुक्त अभ्यास में राफेल लड़ाकू विमान हिस्सा लेंगे. इसके साथ-साथ हवा में ईंधन भरने वाले विमान भी हिस्सा लेंगे. भारत और फ्रांस के बीच होने वाले इस संयुक्त अभ्यास का नाम डेजर्ट नाइट 21 रखा गया है. फ्रांसीसी सेनाएं इस समय एशिया में अपने ‘स्काईरोस डिप्लॉमेंट’ के तहत तैनात हैं और अब भारत के लिए रवाना हो रही हैं. दोनों देशों के बीच यह अभ्यास ऐसे समय हो रहा है जब भारत और चीन के बीच लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है.

फ्रांसीसी वायु सेना के राफेल लड़ाकू विमान इस महाने राजस्थान (Rajasthan)में लैंड करेंगे और भारतीय वायु सेना के गोल्डन एरोस स्क्वाड्रन के साथ संयुक्त अभ्यास में शामिल होंगे. राफेल जेट पहली बार किसी विदेशी वायु सेना के साथ अभ्यास में हिस्सा लेंगे. भारतीय वायु सेना को इस महीने के आखिरी तक तीन और राफेल विमान मिलने वाले हैं, जिसके बाद सेना की ताकत और बढ़ जाएगी. तीन और राफेल मिलने के बाद भारत में इसकी संख्या 11 पहुंच जाएगी. भारत और फ्रांस के बीच 59000 करोड़ रुपए में 36 राफेल विमानों की डील हुई है. एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा है कि अभ्यास का उद्देश्य ऑपरेशनल एक्सपोजर और युद्ध की क्षमता बढ़ाने के लिए बेस्ट प्रैक्टिस साझा करना है.

Please share this news