Monday , 28 September 2020

प्रिंस पाइप्स एंड फिटिंग्स ने हिमालया प्लास्टिक्स पर छापा मार किया नकली उत्पादों के रैकेट का भंडाफोड़

कंपनी ने पकड़े 60 लाख रुपये के नकली उप्ताद और मशीनें

उदयपुर (Udaipur). राजस्थान (Rajasthan) की प्लास्टिक सामग्री बनाने और निर्यात करने वाली कंपनी हिमालया प्लास्टिक्स एक छापे में प्रिंस पाइप्स एंड फिटिंग्स लि.  के नकली उत्पाद बनाती और बेचती पकड़ी गई. यह छापा राजस्थान (Rajasthan) के सुमेरपुर जिले में प्रिंस पाइप्स और स्थानीय निकायों के अधिकारियों तथा निजी जांचकर्ताओं ने मारा. कंपनी ने पिछले 18 महीने में ग्राहकों के हित सुरक्षित रखने के लिए देश भर में 5 छापे मारे हैं. छापे के दौरान एक कारखाने में एसडब्ल्यूआर पाइप, डाई एवं एक्सट्रूडर मशीन जैसे उत्पाद मिले. करीब 8-10 लाख रुपये का स्टॉक और 50 लाख रुपये की मशीनरी जब्त की गई तथा मालिक के खिलाफ ट्रेडमार्क एवं कॉपीराइट अधिनियम के तहत शिकायत दर्ज कराई गई.

प्रिंस पाइप्स एंड फिटिंग्स लि. के प्रवक्ता ने कहा कि हम ग्राहकों की जरूरतें और अपेक्षाएं पूरी कर उन्हें संतुष्ट करने के लिए प्रतिबद्ध हैं. हमें लगता है कि व्यापार, ग्राहक और संस्थाएं समझती हैं कि उच्च गुणवत्ता वाली अपनी विनिर्माण प्रक्रिया के बारे में हमने पारदर्शिता के साथ बताया है. हम ग्राहकों से अनुरोध करते हैं कि सोच-समझकर ही खरीदारी करें. कंपनी ने कहा कि हम अपने ग्राहकों, वितरकों, खुदरा विक्रेेताओं के हितों की रक्षा पर ध्यान देते हैं. हम घटिया लोगों और नक्कालों को हमारे ब्रांड का नाम इस्तेमाल कर या हमारे ट्रेडमार्क का उल्लंघन कर घटिया और गुणवत्ताहीन उत्पाद बनाने और बाजार में बेचने नहीं देंगे. प्रिंस पाइप्स एंड फिटिंग्स लि.  के ग्राहकों को असली उत्पाद खरीदने के लिए तीन निशान देखने चाहिए – जीरो डिफेक्ट विनिर्माण प्रक्रिया की मुद्रा, क्राउन प्रिंस लोगो और प्रिंस पाइप्स एंड फिटिंग्स लिमिटेड.