Monday , 10 May 2021

Ram temple निर्माण के लिए राष्ट्रपति कोविंद ने दिया पांच लाख एक सौ रुपये का चेक

नई दिल्ली (New Delhi) . देश में राम मंदिर (Ram Temple) के लिए चंदा इकट्ठा किया जा रहा है. राम मंदिर (Ram Temple) निर्माण के लिए चंदा इकट्ठा करने के अभियान की शुरुआत भी हो चुकी है. वहीं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राम मंदिर (Ram Temple) के लिए सबसे पहले चंदा दिया है और इस अभियान को हरी झंडी दिखाई है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राम मंदिर (Ram Temple) के लिए पांच लाख रुपये एक सौ रुपये का चंदा दिया है. राष्ट्रपति ने राम मंदिर (Ram Temple) निर्माण के लिए चंदा मंदिर ट्रस्ट को सौंपा है. चेक के जरिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने यह चंदा दिया है. राम नगरी अयोध्या (Ayodhya) में बनने वाले भव्य राम मंदिर (Ram Temple) के निर्माण के लिए आज से धन संचय अभियान शुरू हो चुका है. राष्ट्रपति ने पांच लाख एक सौ रुपये देकर इस अभियान की शुरुआत कर दी है. राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट और वीएचपी मिलकर देश भर में राम मंदिर (Ram Temple) के निर्माण के लिए धन जुटाने का अभियान चला रहे हैं. यह अभियान करीब डेढ़ महीने तक चलेगा. इसके तहत देश भर में करीब 13 करोड़ परिवारों तक पहुंचने का लक्ष्य रखा गया है.

इस अभियान के तहत 27 फरवरी तक देश में करोड़ों लोगों तक पहुंचने की कोशिश की जाएगी और चंदा इकट्ठा किया जाएगा. लोगों से जो पैसा मिलेगा वो राम मंदिर (Ram Temple) निर्माण में इस्तेमाल किया जाएगा. राम मंदिर (Ram Temple) धन संग्रह अभियान के तहत 10 रुपये, 100 रुपए और 1000 रुपए की पर्चियां दान देने वाले लोगों को दी जाएंगी. इन पर्चियों पर अयोध्या (Ayodhya) में बनने वाले भव्य राम मंदिर (Ram Temple) की तस्वीर के साथ ही भगवान राम की छवि भी होगी. इस अभियान के तहत पैसा देने वालों को ये पर्ची रसीद के तौर पर दी जाएगी. वहीं 2 हजार रुपये से ज्यादा का योगदान करने वाले लोगों को एक अलग तरह की रसीद दी जाएगी, जिससे वो आयकर छूट का फायदा भी उठा सकते हैं. वीएचपी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने जानकारी देते हुए कहा कि राम मंदिर (Ram Temple) धन संग्रह अभियान की शुरुआत राष्ट्रपति से करने के बाद उपराष्ट्रपति से भी मुलाकात होगी. वहीं देश के प्रधानमंत्री से लेकर दूरदराज इलाके के गांवों तक इस अभियान के तहत पहुंचने की योजना है.

Please share this news