Friday , 14 May 2021

कोरोना की वजह से जान गंवाने वालों को याद कर भावुक हुए पीएम मोदी


नई दिल्ली (New Delhi) . प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने देशभर में कोरोना से जंग के लिए टीकाकरण अभियान की शुरुआत की. इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना टीके को उन लोगों के लिए श्रद्धांजलि बताया जिन्होंने इस महामारी (Epidemic) में अपनी जान गंवा दी. कोरोना के कारण इस दुनिया को छोड़ने वाले लोगों को याद करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी अचानक भावुक हो उठे. बता दें कि देशभर के 3006 केंद्रों पर आज टीकाकरण अभियान की शुरुआत की गई है.

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘आमतौर पर बीमारी में परिवार पास रहता है लेकिन इस बीमारी ने तो बीमार को परिवार से ही दूर कर दिया. कोरोना काल को याद कर के मन सिहर जाता है. कोरोना काल में मां को बच्चे से दूर रहना पड़ा. जो चले गए उन्हें परंपरा के अनुसार विदाई तक नहीं दे पाए. निराशा के इस दौर में कुछ लोगों ने उम्मीद की किरण जगाई. स्वास्थ्य कर्मी और फ्रंट लाइन वर्कर्स कई दिनों तक बिना घर लौटे काम करते रहे. कई स्वास्थ्य कर्मी ऐसे भी रहे जो कभी घर लौटे ही नहीं. पीएम नरेंद्र मोदी ने देश के वैज्ञानिकों, रिसर्चरों और वैक्सीन बनाने में जुटे सभी लोगों का आभार जाहिर किया और लोगों से अपील की कि वे वैक्सीन लगवाने के बाद भी सुरक्षा के नियमों में कोताही न बरतें. पीएम मोदी ने कहा कि लोगों को वैक्सीन लगवाने के बाद यह नहीं सोचना चाहिए कि वे कोरोना से सुरक्षित हैं. पीएम मोदी ने बताया कि पहले चरण में कुल 3 करोड़ लोगों को वैक्सीन दी जाएगी.

पीएम मोदी ने यह भी बताया कि दुनिया के कई देशों की आबादी भी 3 करोड़ नहीं लेकिन भारत इतने लोगों को पहले चरण में टीका लगाएगा. प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारा लक्ष्य अगले चरण में 30 करोड़ लोगों को टीका लगाने का है. पीएम मोदी ने कहा कि ऐसे समय में जब कुछ देशों ने अपने नागरिकों को चीन में बढ़ते कोरोना के बीच छोड़ दिया था, तब भारत चीन में फंसे हर भारतीय को वापस लेकर आया और सिर्फ भारत के ही नहीं, हम कई दूसरे देशों के नागरिकों को भी वहां से वापस निकालकर लाए.

Please share this news