Sunday , 28 February 2021

अब सीएम हेल्पलाइन से मिलेंगे खसरा-खतौनी

भोपाल (Bhopal) . मध्य प्रदेश में अब खसरा और खतौनी के लिए किसानों को लोक सेवा केंद्र जाने की जरूरत नहीं पड़ेगा. सीएम हेल्पलाइन 181 के माध्यम से भी दस्तावेज मिल जाएंगे. गणतंत्र दिवस के पहले सोमवार (Monday) को मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान इस नई सेवा की शुरुआत करेंगे.

इसमें दस्तावेज की मांग किए जाने पर संबंधित को ई-मेल या वाट्सएप पर ही निर्धारित शुल्क जमा करने पर यह सुविधा मिल जाएगी. इसके साथ ही लोक सेवा गारंटी कानून के तहत तय समयसीमा में अनुमति संबंधी सेवा उपलब्ध नहीं कराई जाती है तो अगले ही दिन पोर्टल से स्वत: जारी हो जाएगी.

प्रदेश में सुशासन के लिए सरकार नागरिकों को अधिकांश सुविधाएं निर्धारित समयसीमा में उपलब्ध कराने की दिशा में काम कर रही हैं. लोकसेवा गारंटी कानून के तहत नागरिकों को विभिन्न् तरह की अनुमतियां, प्रमाण पत्र आदि दिए जा रहे हैं. इस सेवा का अब और विस्तार किया जा रहा है.

स्थानीय निवासी और जाति प्रमाण पत्र के बाद अब सीएम हेल्पलाइन के माध्यम से खसरा और खतौनी भी उपलब्ध होंगे. मुख्यमंत्री (Chief Minister) इस सेवा की शुरुआत सोमवार (Monday) को करेंगे. खसरा-खतौनी चाहने वाले को सीएम हेल्पलाइन में मांग करनी होगी. राजस्व विभाग के अधिकारियों का कहना है कि निर्धारित शुल्क जमा करने पर संबंधित को सुविधा मिल जाएगी. इसके लिए लिंक भेजी जाएगी. यह सुविधा एक ही दिन में प्राप्त होगी. वहीं, जो अनुमतियां निर्धारित समयसीमा में नहीं दी जाएंगी, उसे पोर्टल स्वत: अगले दिन जारी कर देगा.

Please share this news