Tuesday , 13 April 2021

उत्तर-पश्चिमी हवाओं ने मप्र में बढ़ाई ठंड

भोपाल (Bhopal) . मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में चलने वाली उत्तर-पश्चिमी हवाओं ने ठंड बढ़ाई है. पश्चिमी विक्षोभ और आगे बढ़ा और सर्द हवाओं की रफ्तार बढ़ी तो इन शहरों में शीतलहर चल सकती है. यह संभावना मौसम विभाग ने जताई है. प्रदेश के पश्चिमी हिस्सों में सोमवार (Monday) को सर्द हवाओं ने तेज ठंड का अहसास करा दिया है. उज्जैन में दिन का अधिकतम तापमान रविवार (Sunday) के मुकाबले सोमवार (Monday) नौ डिग्री सेल्सियस तक गिर गया. भोपाल (Bhopal) , इंदौर (Indore) समेत अन्य शहरों में यह गिरावट चार से लेकर सात अंकों तक दर्ज की गई है. मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक पश्चिमी मप्र के उज्जैन में सोमवार (Monday) का अधिकतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस, भोपाल (Bhopal) में 22.3, इंदौर (Indore) में 20.6 और शाजापुर में 21 डिग्री रिकार्ड हुआ है. इन चारों शहरों के तापमान में चौबीस घंटे के भीतर क्रमश: 9, 6.4, 7.2 और 6.4 डिग्री की गिरावट दर्ज हुई है जो अधिक है. इसी तरह की गिरावट आगे भी होने का अनुमान है. ऐसा हुआ तो शीलहर चल सकती है.

वहीं पूर्वी मप्र के हिस्सों में ठंड से थोड़ी राहत है. सभी शहरों का अधिकतम तापमान पश्चिमी मप्र के शहरों की तुलना में एक से तीन डिग्री तक अधिक है जबकि गिरावट भी 3.9 डिग्री सेल्सियस से अधिक नहीं हुई है. सर्द हवाओं का असर भोपाल (Bhopal) , इंदौर (Indore) जैसे शहरों में भी रहा है. शाम को लोगों ने अन्य दिनों की तुलना में अधिक ठंड महसूस की है. उज्जैन में सबसे अधिक ठंड महसूस की गई है. वहीं पूर्वी हिस्से में सीधी समेत कुछ जिले ऐसे भी रहे जहां अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी दर्ज हुई है. पूर्वी मप्र के सिवनी में अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ है जो सर्वाधिक है और नवगांव में 22.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ है. मौसम वैज्ञानियों के मुताबिक पश्चिमी हिस्से में सोमवार (Monday) दोपहर के बाद 16 से 18 किलोमीटर प्रति घंटे से चली. इस वजह से शाम तक अधिकतम तापमान में गिरावट आई है.

Please share this news