Wednesday , 16 June 2021

घर बैठे इलाज की सुविधा देने मोबाइल एप तैयार

भोपाल (Bhopal) . मरीजों को घर बैठे इलाज की सु‎विधा देने के ‎लिए आयुष ‎विभाग ने मोबाइल एप तैयार कर ‎लिया है. ‎विभाग इस मोबाइल एप को अगले सप्ताह सार्वजनिक करने की योजना बना रहा है. इस मोबाइल एप के माध्यम से आयुर्वेदिक, होम्योपैथी और यूनानी तरीके से इलाज की जानकारी दी जाएगी. वर्तमान में इस मोबाइल एप का परीक्षण चल रहा है.

एप में जानकारी दर्ज कर कोई भी व्यक्ति उपचार के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकेगा. उधर, 362 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर अप्रैल तक शुरू कर दिए जाएंगे. इनकी तैयारी के दौरान मिले परिणामों से उत्साहित विभाग प्रदेश में 200 और वेलनेस सेंटर खोलने की प्रक्रिया शुरू करने जा रहा है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, वैद्य आपके द्वार योजना के तहत मोबाइल एप तैयार करवाया गया है. इस एप में तीन पद्धति से इलाज के लिए मार्गदर्शन दिया जाएगा. कोई भी व्यक्ति इसे मोबाइल में डाउनलोड कर अपनी स्वास्थ्य समस्या बता सकता है. उसे अपनी पसंद के अनुसार आयुर्वेदिक, होम्योपैथी या यूनानी पद्धति के चयन की सुविधा मिलेगी. एप पर समस्या बताने के बाद उसे बीमारी से संबंधित दवाइयों की जानकारी दी जाएगी. इन मामलों में मार्गदर्शन के लिए चिकित्सकों के चयन की प्रक्रिया चल रही है.

ग्रामीण क्षेत्रों में हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर की केंद्र सरकार (Central Government)की योजना के तहत प्रदेश में काम तेजी से जारी है. प्रदेश के लिए 362 वेलनेस सेंटर खोलने की स्वीकृति मिली हुई है. इसमें से 100 सेंटर शुरू कर दिए गए हैं. बाकी में सुविधाएं जुटाने का काम जारी है. विभाग का दावा है कि अप्रैल तक बाकी के सेंटर भी शुरू कर दिए जाएंगे. इस योजना में ग्रामीण क्षेत्रों में आहार, जीवनशैली आदि के आधार पर चिकित्सकीय सलाह दी जानी है. इस योजना को लेकर ग्रामीणों में उत्साह है. इसे देखते हुए 200 और वेलनेस सेंटर खोलने का प्रस्ताव तैयार किया गया है.

इस बारे में आयुष विभाग के उपसंचालक डॉ पीसी शर्मा का कहना है ‎कि इलाज की जानकारी देने के लिए बनाए गए मोबाइल एप का काम अंतिम चरण में है. टेस्टिंग चल रही है. जल्द ही इसे सार्वजनिक कर दिया जाएगा. हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के लिए भी सुविधाएं जुटा ली गई हैं. 200 और वेलनेस सेंटर खोलने की योजना है.

Please share this news