Thursday , 15 April 2021

माइनर में हुई भ्रष्टाचार की खंदी,फसल जलमग्न का फैला खतरा

मैनपुरी किशनी.सिंचाई विभाग की लापरवाही से किसानों की फसल जलमग्न होने का खतरा बढ़ता जा रहा है.माइनर में तेज फ्लो से पानी छोड़ देने के कारण कई जगह खंदी होने से किसानों की खड़ी फसल बर्बाद होने की आशंका बढ़ती जा रही है.एसडीएम ने ऐई को फोन कर पानी को कम कराने के निर्देश दिए हैं.

नगर से गुजर रहे माइनर की बदहाली कम.होने का नाम नहीं ले रही है.काफी प्रयासों के बाद माइनर पक्का हो पाया.लॉकडाउन (Lockdown) से पहले मोहल्ला गढ़ी में कुछ हिस्से को अधूरा छोड़ दिया गया.पंद्रह दिन पूर्व माइनर में शेष हिस्से को पक्का करने का कार्य शुरू हुआ.ठेकेदार ने बेहद घटिया कार्य कराया जिसका स्थानीय निवासियों ने विरोध किया पर कुछ नहीं हुआ.शनिवार (Saturday) को माइनर में कार्य बन्द हुआ और रविवार (Sunday) को पानी छोड़ दिया गया.गढ़ी निवासी भारतेंदु जाटव का आरोप है कि माइनर में भ्रष्टाचार को छिपाने के लिये तत्काल पानी छोड़ दिया गया.माइनर में बनी दीवाल को सूखने का भी समय नहीं दिया गया जिससे कार्य कराने में घटिया निर्माण सामिग्री का पता न चल सके.वहीं रविवार (Sunday) को तेज बहाव से पानी आने के कारण माइनर ओवरफ्लो होने लगा.लोगों ने सिंचाई विभाग इटावा प्रखंड के ऐई धर्मपाल मित्तल को फोन कर माइनर का गेट बंद कराने को कहा तब माइनर में पानी कम हुआ.सोमवार (Monday) को बटपरू पुलिया के पास माइनर में कई जगह खंदी हो गयी और पानी खेतों में घुसने लगा जिससे किसानों की फसल बर्बाद होने लगी.किसानों ने खंदी बन्द करने का प्रयास किया पर तेज बहाव के कारण सफलता नहीं मिली.

लोगों ने इसकी सूचना एसडीएम रामशकल मौर्य और एई धर्मपाल मित्तल को दी.एसडीएम रामशकल मौर्य ने ऐई धर्मपाल मित्तल को फोन कर तत्काल पानी कम कराने के निर्देश दिए.वहीं गुस्साए किसानों ने बटपरू में खंदी के पास खड़े होकर सिंचाई विभाग के विरुद्ध प्रदर्शन किया.उन्होंने आरोप लगाया कि कई बार कहने के बावजूद पानी कम नहीं किया जा रहा है जिससे सैकड़ो बीघा फसल बर्बाद होने की आशंका बढ़ती जा रही है.प्रदर्शन करने वालों में महेशचंद शाक्य,ब्रजेश कुमार,नितिन कुमार,तेज सिंह,अरविंद कुमार,विपिन शाक्य,सुभाषचन्द शाक्य,बीटू शाक्य,सुरेंद्र यादव, महेश यादव,जगदीश यादव,रामपाल यादव,सुनील यादव,आनंद शाक्य सहित कई किसान 
मौजूद थे.

 

Please share this news