Monday , 10 May 2021

भारी मात्रा में शराब बरामद आबकारी टीम की बड़ी कार्रवाई

बिलासपुर- .आबकारी टीम ने पिछले 24 घंटे में मुहिम चलाकर दूसरे राज्य से लायी गयी स्काटलैण्ड की विदेशी शराब को बरामद किया है. मुहिम में तीन बड़े और रसूखदार आरोपियों को पकड़ा गया है. आबकारी उपायुक्त नीतू नोतानी ठाकुर ने बताया कि पूरे मामले में सीआरपीएफ (Central Reserve Police Force) का जवान शामिल है. सीआरपीएफ (Central Reserve Police Force) का जवान आईडी के दम पर शराब को बाहरी राज्य से लाकर रायपुर (Raipur) (Raipur) और बिलासपुर (Bilaspur) में खपाने का काम काम लम्बे समय कर रहा था. पूरी कार्रवाई में आबकारी दारोगा मुकेश पाण्डेय का विशेष प्रयास देखने को मिला. आबकारी टीम बिलासपुर (Bilaspur) ने उपायुक्त नीतू नोतानी ठाकुर के मार्गदर्शन में विशेष अभियान चलाकर बाहरी राज्य से लायी गयी भारी मात्रा में विदेशी शराब को जब्त किया है. नीतू नोतानी ठाकुर ने बताया कि शराब तस्करी की जानकारी सबसे पहले आबकारी दारोगा मुकेश पाण्डेय को मिली. मुकेश पाण्डेय की सूचना पर टीम को कार्रवाई के लिए अलर्ट किया गया. आबकारी टीम मुकेश पाण्डेय की अगुवाई में तस्करों पर 14 जनवरी से लगातार नजर बनाकर रखी थी.

टीम ने करी बड़ी कार्रवाई इसके बाद चार अन्य टीम का गठन किया गया. इसकी जिम्मेदारी सहायक आबकारी अधिकारी एसडी द्विवेदी, रविन्द्र पाण्डेय. धीरज कन्नोजिया और आशीष सिंह को दी गयी. 15 जनवरी को मुकेश पाण्डेय ने बताया कि पानीपत से शराब नेहरूनगर स्थित मनोज खन्ना के घर लाया जा रहा है. इसके बाद टीम को मौके पर विशेष रूप से तैनात किया गया.

लाखों रूपयों की शराब बरामद इसी बीच मनोज खन्ना को मुकेश पाण्डेय और उसकी टीम ने शराब की बोतल निकालते देते हुए रंगे हाथों पकडा. मनोज खन्ना के पास से टीम ने कुल 12 बोतल शराब को बरामद किया.जिसकी कुल कीमत करीब 2 लाख 27 रहजार 106 रूपए है.

पूछताछ में मनोज खन्ना बताया सच पूछताछ के लिए मनोज खन्ना को कन्ट्रोल रूम लाया गया. इसी दौरान मनोज खन्ना की मोबाइल पर एक फोन आया. आबकारी टीम को फोन से जानकारी मिली कि रायपुर (Raipur) (Raipur) से कुछ लोग स्काटलैण्ड की शराब पानीपत के रास्ते बिलासपुर (Bilaspur) देने आ रहे है. जानकारी के बाद टीम को अलर्ट किया गया.

रणनीति के तहत चला अभियान आबकारी उपायुक्त ने बताया कि टीम सभी पांच टीम ने रणनीति बनाकर रायपुर (Raipur) (Raipur) से आने वाली खेप को ट्रेस करने का फैसला किया. इस दौरान नेहरू नगर से पकड़ा गया तस्कर मनोज की मोबाइल पर लगातार रायपुर (Raipur) (Raipur) से फोन आता रहा. फोन के आधार पर रायपुर (Raipur) (Raipur) से आने वाले तस्करों को रणनीति बनाकर घेरा गया. इसी बीच मनोज खन्ना ने बताया कि फोन करने वाला व्यक्ति सीआरपीएफ (Central Reserve Police Force) का जवान है. सीआरपीएफ (Central Reserve Police Force) जवान का नाम गणेश कुमार जैन है.

सीआरपीएफ (Central Reserve Police Force) जवान को धर दबोचा गया देर रात्रि रायपुर (Raipur) (Raipur) से सेन्ट्रो कार में भारी मात्रा में लायी गयी शराब को बिलासपुर (Bilaspur) मेंं घेरकर पकडा गया. कार में सीआरपीएफ (Central Reserve Police Force) जवान गणेश कुमार के अलावा विजय अरोरा को भी धर दबोचा गया. विजय अरोरा शराब तस्करी में पुराना और कुख्यात नाम है. जो नाम बदलकर शराब तस्करी करता है. विजय अरोरा को राहुल और नरेश के नाम से भी जाना जाता है.

हाईरेन्ज की शराब बरामद नीतू ठाकुर ने बताया कि सेन्ट्रो कार में आबकारी टीम ने तीन पेटी रेड लेबल हाईरेन्ज की शराब को बरामद किया गया. बरामद विदेशी शराब की कीमत करीब दो एक लाख 2 हजार रूपए से अधिक है. आबकारी टीम ने दोनो आरोपियों को धर दबोचा. साथ ही सेन्ट्रो कार को भी बरामद किया गया.

तस्करी के तार लम्बे पकडे गए तीनो आरोपियों के खिलाफ आबकारी अनिधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत कार्रवाई की जा रही है. इस दौरान सहायकु आयुक्त टीपी भूसाखरे का विशेष योगदान रहा. आबकारी उपायुक्त के अनुसार पकड़ी गयी विदेशी शराब में आरोपियों से अभी पूछताछ कार्रवाई होगी. उम्मीद है कि आरोपियों के तार ब़ड़े लोगों से जुड़े हैं. जल्द ही पूछताछ के बाद आगे की जानकारी दी जाएगी.

पचपेढ़ी से भारी मात्रा में गोआ शराब जब्त आबकारी उपायुक्त नीतू नोतानी ठाकुर ने बताया कि आबकारी दारोगा आनन्द वर्मा की अगुवाई में बीती रात मस्तूरी क्षेत्र में बड़ी कार्रवाई की गयी है. आनन्द वर्मा को मुखबीर से जानकारी मिली कि पचपेढ़ी में अंग्रेजी शराब की तस्करी की जा रही है. आनन्द वर्मा ने टीम के साथ मौके पर समय पर धावा बोला. एक महिला को हिरासत में लेने के बाद पूछताछ की. महिला के पास से सात पेटी गोआ शराब बरामद किया गया है. महिला के खिलाफ आबकारी अधिनियम के तहत कार्रवाई की गयी है.

Please share this news