Sunday , 6 December 2020

कालरॉक कैपिटल-मुरारी लाल जालान बने जेट एयरवेज के नए मालिक


नई दिल्ली (New Delhi) . जेट एयरवेज को नया मालिक मिल गया है. लंदन के कालरॉक कैपिटल और यूएई के निवेशक मुरारी लाल जालान वाले कंसोर्टियम ने इसकी बोली अपने नाम कर ली है. जेट को कर्ज देने वालों ने इस कंसोर्टियम के रेजोल्यूशन प्लान को मंजूरी दे दी है. जेट एयरवेज की स्थापना नरेश गोयल ने की थी. अप्रैल, 2019 में नकदी संकट के बाद से जेट की उड़ानें थमी हुुई है.

जेट एयरवेज की दिवालिया प्रक्रिया के लिए नियुुक्त किए गए रेजोल्यूशन प्रोफेशनल आशीष झावरिया ने स्टॉक एक्सचेंज को यह जानकारी दी है. आशीष ने कहा है कि कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स ने इन्सोलवेंसी एंड बैंकरप्सी कोड (आईबीसी) के सेक्शन 30(4) के तहत कालरॉक कैपिटल और मुरारी लाल जालान वाले कंसोर्टियम की बोली को अप्रूव कर दिया है. जेट एयरवेज को खरीदी के लिए हरियाणा (Haryana) की फ्लाइट सिमुलेशन टेक्निक सेंटर और अबु धाबी की इम्पीरियल कैपिटल इन्वेस्टमेंट एलएलसी वाले कंसोर्टियम ने भी बोली लगाई थी.

अब आईबीसी के सेक्शन 30(6) तहत जीतने वाले प्लान को मंजूरी के लिए एनसीएलटी के सामने रखेंगे. एनसीएलटी की मंजूरी मिलने के बाद कंसोर्टियम को एयरलाइन का नया मालिक घोषित करेगा. इसके बाद सदस्यों को इसकी जानकारी दी जाएगी. उल्लेखनीय है कि जेट एयरवेज को दिवालिया घोषित करने के लिए जून, 2019 में एनसीएलटी में आवेदन किया गया था. इसके बाद कोरोना काल के कारण दिवालिया प्रक्रिया अगस्त में संपन्न हो सकी.