Wednesday , 23 June 2021

झाबुआ पुलिस ने किया पिपलोदा लूट का पर्दाफाश, दाहोद गैंग के तीन लुटेरे जेवरात सहित गिरफ्तार

झाबुआ . जिले की पुलिस (Police) ने जिले के मेघनगर थनान्तर्गत पिपलोदा में 4दिन पूर्व हुई लूटकी वारदात के तीन आरोपियों को कल गिरफ्तार कर एवम उनके पास से दो बाइक सहित करीब ₹1लाख मूल्य के चाँदी के जेवरात जप्त करने में सफलता प्राप्त की है. एक आरोपी अभी फरार है. गिरफ्तार सभी आरोपियों पर झाबुआ सहित गुजरात (Gujarat) राज्य के दाहोद थाने में विभिन्न आपराधिक धाराओं में प्रकरण दर्ज है. इस लूट की वारदात में कालीबाई नामक महिला से उसके चाँदी के जेवरातों को लूट कर बदमाश रात के अंधेरे में भाग खड़े हुए थे. लूट की यह घटना झाबुआ पुलिस (Police) के समक्ष चुनौती थी, जिसका पटाक्षेप पुलिस (Police) ने 4 दिनों में आरोपियों को गिरफ्तार कर किया.

जानकारी के अनुसार आरोपियों की गिरफ्तारी में एक आरोपी के टी शर्ट की बड़ी भूमिका रही जिसे लूट की घटना के दौरान झूमा झटकी में लूट की वारदात की शिकार हुई महिला ने लुटेरों से छीन लिया था. अतिरिक्त पुलिस (Police) अधीक्षक आनंदसिंह वास्कले ने ” ” संवाददाता को बताया कि जिला पुलिस (Police) अधीक्षक के नेतृत्व में पुलिस (Police) टीम ने व्यापक स्तर पर छानबीन करते हुए घेराबंदी करते हुए लूट के आरोपियों को अपनी गिरफ्त में ले लिया. उल्लेखनीय है कि इस घटना को गम्भीरता से लेते हुए पुलिस (Police) अधीक्षक झाबुआ आशुतोष गुप्ता ने अनुविभागीय अधिकारी पुलिस (Police) एमएस गवली को लूट की घटना का जल्द खुलासा करने का निर्देश दिया था.

घटना के सम्बंध में एएसपी द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार दिनांक 21.03.2021 की रात्री में फरियादिया कालीबाई पति राजु डामोर उम्र 35 वर्ष निवासी खटामा अपने पति राजु एवं जमाई सुभाष के साथ छोटी पिटोल शादी में गये थे. वापस अपने घर आते समय मदरानी रोड ग्राम पिपलोदा में ईमली के झाड के पास पिछे से दो मोटर सायकल पर तीन से चार बदमाश आये व उनकी मोटर सायकल के आगे लाकर खड़ी कर दी व फरियादिया के साथ मारपीट कर उसके द्वारा पहने जेवर चॉदी की साकंली, चाँदी का कंदोरा, चाँदी का पायजब, चाँदी की बंगडी 10 नग, दो झेला चाँदी, बाहटिया चाँदी के 02 नग लूट कर फरार हो गये. झुमा झपटी में अज्ञात बदमाश का एक लाल रंग का टीशर्ट फरियादिया के हाथ में रह गया.

फरियादिया ने हिम्मत दिखाते हुए बदमाशो का डटकर सामना भी किया परन्तु वह अंधेरे का फायदा उठाकर भाग गये. जिस पर थाना मेघनगर में अपराध क्रं. 118/2021 धारा 394 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया. पुलिस (Police) के अनुसार उक्त लूट की वारदात की गंभीरता को देखते हुए जब सभी बिन्दुओ पर बारीकी से जांच की जा रहीं थी तभी पुलिस (Police) टीम को विश्वसनीय मूखबीर द्वारा सूचना मिली कि संदेही समसू कही से लोटा है, जो कि मोटर सायकल पर बिना शर्ट पहने ही गुम रहा था. जिस कारण पुलिस (Police) की शक की सूई संदेही समसु पर जाकर टीकी.

आरोपी समसु को पुलिस (Police) हिरासत में लेकर सख्ती से पुछताछ करने पर आरोपी समसु ने सारा राज उगल दिया व बताया कि उसके साथ अन्य तीन ओर लोग सुमसिंह, सागर व कनेश थे जिनके साथ मिलकर लूट की वारदात को अंजाम दिया. जिस पर पुलिस (Police) टीम द्वारा आरोपी सुमसिंह व सागर को भी पकड़ने में सफलता प्राप्त की. आरोपी द्वारा बताया गया कि ये रंभापुर में डॉक्टर (doctor) से दवाई लेने आये थे लेकिन अस्पताल बंद होने से वापस लोट रहे थे तब रास्ते में फरियादिया दिखी जो कि काफी सारे आभूषण पहने हुए थी, जिसको देखकर लूट करने का विचार बनाया. आरोपियों से सख्ती से पुछताछ करने पर लूटे गये जेवर उनकी निशादेही से आरोपियों के घर से जप्त किये गये. पुलिस (Police) द्वारा कल आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में प्रस्तुत किया गया.

Please share this news