Wednesday , 14 April 2021

कठिन था गणित का पेपर, गुरुजी पूरा हल नहीं कर सके

भोपाल (Bhopal) . शिवाजी नगर स्थित सुभाष एक्सीलेंस स्कूल में एक-एक, दो-दो करके शिक्षक बाहर आए. इनमें से कई के चेहरे पर मायूसी साफ झलक रही थी. मायूसी की वजह थी गणित का पेपर कठिन था. हैरानी की बात यह रही कि कई शिक्षक किताब में से देखकर भी तीन घंटे में पूरा पेपर ही नहीं कर सके थे. दोपहर 12 बजे इनका पेपर शुरू हुआ था. हाई स्कूलों के ये वे शिक्षक हैं, जिनके स्कूलों में सालाना परीक्षा का रिजल्ट 40 फीसदी तक रहा. स्कूल शिक्षा विभाग इनकी दक्षता परीक्षा ले रहा है. रविवार (Sunday) को पहले दिन शहर के हाई स्कूलों के 15 शिक्षकों को इस इम्तिहान से गुजरना पड़ा. इनमें गणित विषय के 10, विज्ञान के 3, इतिहास और अर्थशास्त्र के 1-1 शिक्षक शामिल हुए. किताबें देखकर शिक्षकों ने परीक्षा दी.

डीईओ नितिन सक्सेना ने बताया कि सोमवार (Monday) दोपहर 12 से 3 बजे तक एक्सीलेंस स्कूल में ही मिडिल स्कूलों के 52 शिक्षकों की परीक्षा ली जाएगी. परीक्षा के लिए संचालनालय लोक शिक्षण से स्कूल के प्राचार्य सुधाकर पाराशर को ईमेल पर पेपर भेजा गया. प्राचार्य ने 15 प्रिंट आउट निकलवाकर इन शिक्षकों को प्रश्न पत्र दिए. 100 नंबर के पेपर में 30 प्रश्न थे. दक्षता सिद्ध करने के लिए 100 में से इन्हें सिर्फ 48 नंबर ही लाना है.

Please share this news