Friday , 16 April 2021

प्राथमिक शिक्षक संघ की मण्डलीय बैठक में उठे मुद्दे

बस्ती . उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ की मण्डलीय बैठक शुक्रवार (Friday) को जिलाध्यक्ष चन्द्रिका सिंह के बड़े वन के निकट स्थित आवास पर प्रदेश उपाध्यक्ष राधेरमण त्रिपाठी की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई.बैठक को सम्बोधित करते हुये प्रदेश उपाध्यक्ष राधेरमण त्रिपाठी ने कहा कि शिक्षकों, कर्मचारियों के प्रति सरकार का रवैया सकारात्मक नही है. पुरानी पेंशन, कैशलेस चिकित्सा, मंहगाई भत्तों पर रोक, शिक्षकों के स्थानान्तरण आदि मुद्दों पर सरकार विचार नहीं कर रही है. ऐसे में एकजुटता से संघर्ष करना होगा.

माण्डलिक मंत्री योेगेन्द्रनाथ पाण्डेय ने कहा कि बेसिक शिक्षा विभाग को प्रयोगशाला बनाया जा रहा है. सरकार गरीब बच्चों को शिक्षा देने के लिये केवल ऑन लाइन व्यवस्था को लागू करना चाहती है जबकि उनके पास मंहगे मोबाइल और डाटा के लिये धन ही नहीं है. संतकबीर नगर अध्यक्ष अम्बिका देवी ने कहा कि नव नियुक्त शिक्षकोें का वेतन, विद्यालय आवंटन आदि कार्य लम्बित है, शासन स्तर पर इसका तत्काल पूर्ण कराया जाना चाहिये.

संघ जिलाध्यक्ष चन्द्रिका सिंह ने कहा कि वर्षो से पदोन्नतियां रोकी गई है, बस्ती जनपद के सैकड़ो प्राथमिक एवं जूनियर विद्यालयोें के पद रिक्त हैं, सरकार को पदोन्नति का निर्णय शीघ्र लेना चाहिये. जिला मंत्री बाल कृष्ण ओझा ने कहा कि परिषदीय विद्यालयों को अत्याधुनिक संसाधनों से युक्त किया जाय जिससे वे निजी विद्यालयों से बेहतर प्रदर्शन कर सके. वरिष्ठता सूची को तत्काल जारी किया जाय. कोषाध्यक्ष दुर्गेश यादव, उपाध्यक्ष प्रवीन श्रीवास्तव, सुधीर तिवारी ने कहा कि जनपद के भीतर शिक्षकों के स्थानान्तरण की प्रक्रिया शुरू किया जाय. बैठक में शिव प्रकाश सिंह, के.सी. सिंह, शोएब अहमद, सन्तोष मिश्र, डा. प्रमोद सिंह, सुरेश गौड़, अशोक यादव, रूकुनुद्दीन, कुंवर राकेश सिंह, अनिल पाठक, अविनाश दूबे, आशीष दूबे, नीरज सिंह, शिवरतन, देवेन्द्र सिंह, विकास यादव, राम सागर वर्मा, रंजन सिंह, प्रद्युम्न द्विवेदी, दिनेश सिंह, गणेश सिंह, उमाकान्त शुक्ल, मुस्तकीम, प्रताप नारायण चौधरी, असलम, विवेक सिंह, प्रशान्त बरगाह, अंगद सिंह, माखन लाल, सन्तोष पाण्डेय आदि ने महत्वपूर्ण सुझाव दिये.

Please share this news