Friday , 16 April 2021

नये साल में मुख्यमंत्री हार्वर्ड में देंगे लेक्चर, शिक्षामंत्री 11वीं परीक्षा में होंगे

रांची (Ranchi) . झारखंड के मुख्यमंत्री (Chief Minister) हेमंत सोरेन नये साल 2021 में हार्वर्ड में लेक्चर देंगे, जबकि इसी वर्ष शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने 10 अगस्त को 11वीं में नामांकन लिया था. वर्ष 2021 में उन्हें 11वीं बोर्ड की परीक्षा में शामिल होना था, लेकिन पिछले तीन महीनों से वे अस्पताल में भर्ती है. कोरोना पॉजिटिव होने के पहले उन्हें रांची (Ranchi) के रिम्स और फिर एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया. इसके बाद उन्हें चेन्नई (Chennai) के एमजीएम अस्पताल ले जाया गया, जहां उनका लंग्स ट्रांसप्लांट सफल रहा है, लेकिन अब भी वे आईसीयू में भर्ती है. इस दौरान शिक्षा विभाग के कामकाज को सुचारू रखने के लिए मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने इस विभाग के कामकाज की जिम्मेवारी अपने हाथों में ले ली है.

जगरनाथ महतो ने इस वर्ष 10 अगस्त को अपने विधानसभा क्षेत्र स्थित देवी महतो इंटर कॉलेज नवाडीह में अपना नामांकन दाखिल लेने के बाद कहा था कि मैट्रिक पास करने के बाद परिस्थितियों ने उन्हें शिक्षा से दूर कर दिया था, लेकिन उसी दूरी को पाटने की अभिलाषा से प्रेरित होकर उन्होंने इंटरमीडिएट में शिक्षा के लिए अपना नामांकन लिया है. 52वर्षीय जगरनाथ महतो ने सामान्य विद्यार्थियों की तरह रेगुलर क्लास कर इंटर की परीक्षा के लिए पढ़ाई शुरू ही की थी, लेकिन कुछ ही दिनों बार वे बीमार हो गये. इससे पहले जगरनाथ महतो ने 1995 में नेहरू उच्च विद्यालय तेलो से मैट्रिक की परीक्षा द्वितीय श्रेणी में पास की थी. फिर 25वर्षां बाद फिर से पढ़ने की धुन उन्हें रमी. इंटर में पाठ्य पुस्तकों की पढ़ाई को लेकर एक वीडियो भी उनका वायरल हुआ था, जिसमें वे विभागीय कार्य निपटाने के दौरान कार से घर वापस लौटते हुए पढ़ाई करते नजर आ रहे थे. जगरनाथ महतो की तबीयत में निरंतर सुधार भी आ रहा है. विधायक सरयू राय ने रविवार (Sunday) को चेनन्नई के एमजीएम अस्पताल जाकर जगरनाथ महतो से मुलाकात की थी. बाद में चिकित्सकों ने उन्हें बताया कि मंत्री जगरनाथ महतो के स्वास्थ्य में तेजी से सुधार हो रहा है, बहुत जल्द ही वे आईसीयू से वार्ड में स्थानांतरित हो जाएंगे.

राज्य में पिछले वर्ष से 11वीं बोर्ड की परीक्षा झारखंड अधिविद्य परिषद (जैक) द्वारा लिया जा रहा है. इससे पहले तक इंटर में नामांकन लेने वाले विद्यार्थी दो वर्ष में सिर्फ 12वीं बोर्ड की ही परीक्षा देते थे. जैक द्वारा कोरोना संक्रमण के कारण अब तक 11वीं बोर्ड की परीक्षा लेने को लेकर तिथि की घोषणा नहीं की गयी है. हालांकि यह परीक्षा सामान्य परिस्थिति में जनवरी-फरवरी में ही होने वाली थी. लेकिन फिलहाल जैक द्वारा 11वीं और 12वीं की परीक्षा को लेकर किसी तिथि की घोषणा नहीं की गयी है. वहीं यह उम्मीद जा रही है कि जनवरी के पहले सप्ताह में मंत्री जगरनाथ महतो स्वस्थ होकर वापस झारखंड लौट आएंगे और 11वीं बोर्ड की परीक्षा में शामिल हो पाएंगे.

इधर, झारखंड के मुख्यमंत्री (Chief Minister) हेमन्त सोरेन को फरवरी 2021 में व्याख्यान देने के लिए हार्वर्ड विश्वविद्यालय द्वारा आमंत्रित किया गया है. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने आयोजकों को धन्यवाद कर निमंत्रण स्वीकार कर लिया है. हेमंत सोरेन झारखण्ड में आदिवासी अधिकारों, सतत विकास, कल्याणकारी नीतियों और कोरोना संक्रमण काल में राज्य सरकार (State government) द्वारा किये गए कार्यों पर वक्तव्य देंगे.

Please share this news