Monday , 19 October 2020

हाथरस गैंगरेप केस में पीड़िता के जीभ काटने, आंखें फोड़ने की घटना नहीं हुई – पुलिस

लखनऊ (Lucknow) . यूपी पुलिस (Police) ने कहा है कि हाथरस गैंगरेप (Gangrape) केस में पीड़िता के जीभ काटने, आंखें फोड़ने की घटना नहीं हुई. पुलिस (Police) ने ट्वीट किया है- सोशल मीडिया (Media) के माध्यम से यह असत्य खबर सार्वजनिक रूप से फैलायी जा रही है कि ‘थाना चन्दपा क्षेत्रान्तर्गत घटित दुर्भाग्यपूर्ण घटना में मृतका की जीभ काटी गयी, आंख फोड़ी गयी तथा रीढ की हड्डी तोड़ दी गयी थी. हाथरस पुलिस (Police) इस असत्य एवं भ्रामक खबर का खंडन करती है.’

इससे पहले पीड़िता की मेडिकल रिपोर्ट भी सामने आई है, जिसमें कहा गया है कि मृतका के साथ किसी भी प्रकार का यौन शोषण नहीं किया गया था. गला दबाने की वजह से उसकी पीछे की रीढ़ की हड्डी टूटी थी. बता दें यह मेडिकल रिपोर्ट अलीगढ़ के जेएन मेडिकल कॉलेज की है, जहां पीड़िता का इलाज चला था. सोमवार (Monday) को तबीयत बिगड़ने पर उसे दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में एडमिट कराया गया था, जहां मंगलवार (Tuesday) सुबह उसने दम तोड़ दिया. मृतका का पोस्टमार्टम दिल्ली में किया जा रहा है, जिसका इंतजार पुलिस (Police) भी कर रही है.

इस बीच इस मामले को लेकर विरोध बढ़ता जा रहा है. विपक्षी दलों से लेकर बॉलीवुड (Bollywood) के स्टार्स तक ने इस मामले पर बेहद तीखी प्रतिक्रिया दी है. मंगलवार (Tuesday) को दिल्ली के विजय चौक इलाके में महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर प्रदर्शन किया और पीड़िता के लिए न्याय की मांग की.