Monday , 18 January 2021

कटारिया द्वारा अमर्यादित भाषा का प्रयोग करना अशोभनीय: राठौड़

लेकसिटी प्रेस क्लब ने दिया राज्यपाल के नाम ज्ञापन

उदयपुर (Udaipur). शुक्रवार (Friday) को हुई निगम बोर्ड से मीडिया (Media) कर्मियों को दूर रखने व राजस्थान (Rajasthan) सरकार (Government) में विपक्ष के नेता गुलाबचंद कटारिया द्वारा मीडिया (Media) कर्मी के लिए अमर्यादित भाषा का प्रयोग करने पर लेकसिटी प्रेस क्लब के वरिष्ठ व संस्थापक सदस्य, कार्यकारिणी व मीडिया (Media) जगत से जुड़े पत्रकार कडे़ शब्दों में निंदा करते हुए शनिवार (Saturday) को राज्यपाल के नाम जिला कलेक्टर (Collector) को ज्ञापन देने पहुँचे. कलेक्टर (Collector) की अनुपस्थिति में ज्ञापन एडीएम (प्रशासन) ओ पी बुनकर को दिया गया.

लेकसिटी प्रेस क्लब अध्यक्ष प्रताप सिंह राठौड़ ने बताया कि उदयपुर (Udaipur) शहर विधायक गुलाबचंद कटारिया द्वारा 11 सितंबर यानी कल दो अलग-अलग अवसरों पर लोकतंत्र के चौथे स्तंभ के साथ अनुचित व्यवहार करते हुए लोकतांत्रिक व्यवस्थाओं के प्रति अपनी अनास्था जताई है. एक तो नगर निगम, उदयपुर (Udaipur) की बैठक के दौरान कटारिया ने विकास व लोककल्याण से जुड़े मुद्दों में हरदम साथ देने वाले मीडिया (Media) कर्मियों को शहरी क्षेत्र से जुड़े मुद्दो एवं कार्यों के लिए होने वाली निगम की साधारण बैठक से दूर रखा, जिसका विपक्षी पार्षदों ने भी विरोध किया.

कई वर्षों से मीडिया (Media) कर्मी निगम की बैठकों में अपनी उपस्थिति दर्ज कराते रहे है. लेकिन इस बार कटारिया के कहने पर निगम बैठक से मीडिया (Media) कर्मियों को दूर रखा गया, जो कि औचित्यहीन निर्णय है. इसके साथ ही कटारिया ने बैठक के बाद पत्रकारों को दिए गए इंटरव्यू के दौरान भी जिले के एक वरिष्ठ पत्रकार के प्रति अमर्यादित भाषा व अपशब्द का प्रयोग किया. जिस तरह की भाषा का कटारिया द्वारा प्रयोग किया गया वह उनकी पद व गरिमा के लिहाज से अशोभनीय है. राठौड़ ने ज्ञापन में राज्यपाल से पत्रकारों के साथ किये गए गलत व्यवहार को लेकर उचित कार्यवाही की मांग की.

Please share this news