Friday , 26 February 2021

निजी स्कूलों में फीस वसूली का मामले में हाईकोर्ट में आज सुनवाई


-मुख्य न्यायाधीश (judge) इंद्रजीत माहंती की डिवीजन बैंच करेगी सुनवाई

जयपुर (jaipur) . निजी स्कूलों में फीस वसूली के मामले में सोमवार (Monday) को राजस्थान (Rajasthan) हाईकोर्ट में अहम सुनवाई होगी. अधिवक्ता सुनील समदरिया ने सिंगल बेंच के फैसले को डिवीजन बेंच में चुनौती दी है. मुख्य न्यायाधीश (judge) इंद्रजीत माहंती की डिवीजन बैंच मामले की सुनवाई करेगी. सुनवाई पर प्रदेश के लाखों अभिभावकों की नजर टिकी है. सितम्बर को हाईकोर्ट की एकलपीठ ने अंतरिम आदेश देते हुए निजी स्कूलों को ट्यूशन फीस का 70 प्रतिशत चार्ज करने की छूट दी थी. उसे डिवीजन बैंच में चुनौती दी गई है.

अधिवक्ता सुनील समदरिया ने अपील दायर करते हुए कहा था कि एकलपीठ ने अंतरिम आदेश से स्कूलों को 70 प्रतिशत फीस वसूलने का आदेश दे दिया जो कि पूरी तरह से गलत है. स्कूलों ने एकलपीठ में किसी भी अभिभावक को पार्टी नहीं बनाया. ऐसे में इस आदेश पर रोक लगाई जाए.

जस्टिस एसपी शर्मा की एकलपीठ में कैथोलिक एजुकेशन सोसायटी, प्रोग्रेसिव एजुकेशन सोसायटी व अन्य की याचिकाओं के जरिए करीब 200 स्कूलों ने राज्य सरकार (Government) के फीस स्थगन के 9 अप्रैल और 7 जुलाई के आदेश को चुनौती दी थी. राज्य सरकार (Government) के इन आदेशों से निजी स्कूल फीस चार्ज नहीं कर पा रहे थे. हाईकोर्ट के इस आदेश के बाद जयपुर (jaipur) की कई निजी स्कूलों ने कुल फीस का 70 प्रतिशत चार्ज करना शुरू कर दिया है. स्कूल फीस जल्दी चुकाने को लेकर अभिभावकों को मैसेज और फोन कॉल्स कर रहे हैं. एकलपीठ के आदेश की दोनों पक्ष अपनी-अपनी तरह से व्याख्या कर रहे हैं.

Please share this news