Wednesday , 30 September 2020

Good News : कोरोना कहर के बीच अच्छी पहल


नई दिल्ली (New Delhi) . कोरोना (Corona virus) वैसे तो पूरी दुनिया में कहर मचा रहा है, मगर भारत में अब इसकी रफ्तार काफी तेज हो चुकी है. कोरोना (Corona virus) के खिलाफ जंग में भारत सरकार (Government) ने बड़ा कदम उठाया है. भारतीय और अमेरिकी वैज्ञानिकों की 11 टीमें जल्द ही संयुक्त रूप से कोरोना (Corona virus) किट, विषाणु रोधी इलाज पद्धति, मौजूदा दवाओं के कारगर उपयोग, वेंटिलेटर शोध और सेंसर आधारित कोविड-19 (Covid-19) लक्षण पहचान तकनीक विकसित करने पर काम करेंगी. यह जानकारी विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग डीएसटी ने दी.

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग डीएसटी ने अपने एक बयान में कहा कि टीमों का चयन अमेरिका-भारत विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी प्रतिभा कोष यूएसआईएसटीईएफ द्वारा अप्रैल 2020 में कोविड-19 (Covid-19) इग्निशन अनुदान के तहत प्राप्त प्रस्तावों की कठोर द्वि-राष्ट्रीय समीक्षा प्रक्रिया के माध्यम से किया गया है. अमेरिका-भारत विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी प्रतिभा कोष यानी यूएसआईएसटीईएफ की स्थापना भारत डीएसटी के जरिये और अमेरिका विदेश विभाग के द्वारा ने विज्ञान और प्रौद्योगिकी के माध्यम से नवोन्मेष और उद्यमिता को प्रोत्साहित करने के लिए की गयी है. क्योंकि बहुत से देश कोविड- 19 महामारी (Epidemic) से लड़ रहे हैं, विज्ञान, इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नवाचार, नए टीके, उपकरण, क्लिनिकल उपकरण और सूचना प्रणाली के विकास के साथ-साथ रणनीतियों के माध्यम से वैश्विक चुनौती का समाधान खोजने, समुदायों और राष्ट्रों को इस महामारी (Epidemic) से निपटने के लिए संसाधनों का प्रबंधन और तैनाती करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे.

भारत में कोविड- 19 के 78,357 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या 37 लाख के आंकड़े को पार कर गए. वहीं, संक्रमण से अब तक 29 लाख से अधिक मरीज स्वस्थ हो चुके हैं, जिससे मरीजों के ठीक होने की दर 76.98 प्रतिशत हो गई है. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में 1,045 और लोगों की माौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 66,333 हो गई. देश में कोविड-19 (Covid-19) के अभी तक कुल 37,69,523 मामले सामने आए हैं. आंकड़ों के अनुसार देश में अभी तक 29,01,908 लोग संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं. जबकि मृत्यु दर गिरकर 1.76 प्रतिशत हो गई है. आंकड़ों के अनुसार देश में फिलहाल संक्रमण के 8,01,282 मरीज उपचाराधीन हैं, जो कुल मामलों का 21.26 प्रतिशत है.