Monday , 10 May 2021

गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर रैली का आयोजन करने पर किसान संगठन अडिग


नई दिल्ली (New Delhi) . किसान नेताओं ने कहा है कि 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर रैली का ऐलान वापस नहीं लिया जाएगा. इसमें करीब एक हजार ट्रैक्टर हिस्सा लेंगे. किसानों ने रविवार (Sunday) को प्रेस कान्फ्रेंस कर कहा कि एनआईए जो कार्रवाई कर रही है, हम उसकी निंदा करते हैं और हम इसके खिलाफ कोर्ट में ही नहीं कानूनी रूप से भी लड़ेंगे. किसान नेताओं ने कहा कि सरकार ने अत्याचार शुरू कर दिया है.

किसानों की रविवार (Sunday) को बैठक में मुख्य मुद्दा 26 जनवरी में किसानों की सहभागिता को लेकर था. किसान नेताओं ने यह भी कहा कि असामाजिक तत्व इस फिराक में हैं कि वो 26 जनवरी को हमारी परेड को खराब करें. 26 जनवरी को किसान गणतंत्र परेड का आयोजन दिल्ली के अंदर किया जायेगा. जवान के साथ किसान भी ये उत्सव किया मनाएगा. ये परेड बाहरी रिंग रोड पर होगी,इसकी परिक्रमा होगी. हमें उम्मीद है कि दिल्ली और हरियाणा (Haryana) पुलिस (Police) इसमें सहयोग करेगी. करीब 50 किलोमीटर दूर ये परेड शांतिपूर्ण होगी. हम गणतंत्र दिवस पर परेड में कोई बाधा नहीं डालेंगे. किसी सरकारी इमारत पर कब्ज़ा,धावा नहीं बोला जाएगा.

किसान नेताओं ने कहा कि हमारे हर वाहन पर किसानों का और राष्ट्रध्वज होगा. किसी पार्टी का झंडा नहीं होगा. जिन राज्यों से लोग नहीं पहुंच सकते वो अपने अपने राज्यों और शहरों में किसान गणतन्त्र परेड करेंगे.

Please share this news