Friday , 14 May 2021

निर्यात दिसंबर 2020 में बढ़कर 27.15 अरब डॉलर पर पहुंचा, आयात में 7.56 फीसदी की बढ़ोतरी


नई दिल्ली (New Delhi) . देश का निर्यात दिसंबर 2020 में बढ़कर 27.15 अरब डॉलर (Dollar) पर पहुंच गया. जबकि आयात 7.56 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 42.59 अरब डॉलर (Dollar) पर पहुंच गया.आधिकारिक डेटा से इसकी जानकारी मिली है. मर्चेंडाइज एक्सपोर्ट दिसंबर 2019 में 27.11 डॉलर (Dollar) पर था जबकि आयात कुल 39.59 अरब डॉलर (Dollar) पर रहा था.

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, दिसंबर 2020 के लिए व्यापार घाटा 15.44 अरब डॉलर (Dollar) पर रहा, जो दिसंबर 2019 में 12.49 अरब डॉलर (Dollar) पर था. इसमें 23.66 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. यह 25 महीने में सबसे ज्यादा रहा है. सरकारी डेटा के मुताबिक, भारत का कुल निर्यात (मर्चेंडाइज और सर्विसेज) अप्रैल-दिसंबर 2020-21 में 348.49 अरब डॉलर (Dollar) पर रहा, जो पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 12.65 फीसदी की नकारात्मक ग्रोथ है. अप्रैल-दिसंबर के दौरान कुल आयात सालाना आधार पर 25.86 फीसदी की गिरावट के साथ 343.27 अरब डॉलर (Dollar) पर पहुंच गया.

वहीं पेट्रोलियम उत्पादों का निर्यात दिसंबर में 35.35 फीसदी गिरकर 2.34 अरब डॉलर (Dollar) पर पहुंचा है. जबकि रेडिमेड कपड़ों का निर्यात 15.05 फीसदी गिरकर 1.19 अरब डॉलर (Dollar) पर पहुंच गया. हालांकि, इलेक्ट्रिक सामान का निर्यात 16.51 फीसदी बढ़कर 1.25 अरब डॉलर (Dollar) पर पहुंच गया. साथ ही कैमिकल का निर्यात 10.79 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 2 अरब डॉलर (Dollar) हो गया. चावल, चाय, मसालों और ऑयल स्पाइस की शिपमेंट भी दिसंबर 2020 में पिछले साल के समान महीने के मुकाबले ज्यादा थी.

आयात की बात करें तब तेल की शिपमेंट दिसंबर 2020 में 9.58 अरब डॉलर (Dollar) रही थी, जो साल पहले के महीने के दौरान 10.72 अरब डॉलर (Dollar) की तुलना में 10.61 फीसदी कम थी. अप्रैल-दिसंबर 2020-21 में तेल का आयात 53.69 अरब डॉलर (Dollar) रहा, जो साल पहले की अवधि से 44.49 फीसदी कम है. दिसंबर 2020 में गैर-तेल आयात 33 अरब डॉलर (Dollar) अनुमानित है, जो दिसंबर 2019 के मुकाबले 14.30 फीसदी ज्यादा है. अप्रैल-दिसंबर में गैर-तेल आयात 204.58 अरब डॉलर (Dollar) पर रहा, जो पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 267.47 अरब डॉलर (Dollar) से 23.51 फीसदी की गिरावट है.

Please share this news