Thursday , 15 April 2021

सपा की बैठक में सांगठनिक मजबूती पर जोर

बस्ती . शनिवार (Saturday) को समाजवादी पार्टी की मासिक बैठक जिलाध्यक्ष महेन्द्रनाथ यादव की अध्यक्षता में पार्टी कार्यालय पर सम्पन्न हुई. बैठक में ग्राम पंचायत चुनाव में पार्टी की रणनीति के साथ ही सांगठनिक मजबूती, बूथ स्तर पर तैयारियांे की सघन समीक्षा हुई.

सपा जिलाध्यक्ष महेन्द्रनाथ यादव ने कहा कि देश का अन्नदाता पिछले 37 दिनों से दिल्ली बार्डर पर आन्दोलित है, 50 किसान शहीद हो गये किन्तु सरकार अपनी हठवादिता पर अड़ी हुई है. ऐसे कठिन समय में समाजवादी लोग किसानों के साथ है. कहा कि कार्यकर्ता लोगों को जोड़ने का काम करें जिससे आने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) में पार्टी निर्णायक जीत हासिल करे. कार्यकर्ताओं की ताकत से ही पार्टी और समाजवादी विचारधारा को मजबूती मिलेगी.

पूर्व मंत्री राम प्रसाद चौधरी ने कहा कि देश और उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) गंभीर चुनौतियों का सामना कर रहा है. किसान हितोें के साथ लगातार अनदेखी की जा रही है. केन्द्र की सरकार अपने चहेते उद्योगपतियोें को लाभ पहुंचाने की नीयत से तीन ऐसे काले कानून लेकर आयी है जिससे किसान तबाह हो जायेगा. कहा कि सरकार तत्काल प्रभाव से तीन कृषि कानूनों को वापस लेकर न्यूनतम समर्थन मूल्य को कानूनी अधिकार घोषित करे. समाजवादी पार्टी लगातार किसानों के हित में जन जागरण कर रही है. पूर्व विधायक राजमणि पाण्डेय ने कहा कि भाजपा की नीति और नीयत दोनो साफ नहीं है. किसानों की मांगे मानी जानी चाहिये.

इस मौके पर आम आदमी पार्टी और हिन्दू युवा वाहिनी छोड़ राहुल कुमार, साजिद अली, अनिल यादव, विनय चौधरी, राहुल चौधरी, अजीत चौधरी, विनोद मौर्य, हेमन्त पाठक, सलमान, सौरभ, अंसार खान, सचिन यादव, कृष्णा यादव, जुवेर अहमद, मो. इब्राहीम, शफीक शाह, विमल चौधरी, सूर्यभान, उमेश चन्द्र, खुशबू आदि सपा में शामिल हुये. पार्टी अध्यक्ष ने उन्हें पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराया.

बैठक में मुख्य रूप से पूर्व विधायक राजेन्द्र चौधरी, जितेन्द्र प्रसाद उर्फ नन्दू चौधरी, दूधराम, सुमन सिंह, सिद्धेश सिन्हा, जावेद पिण्डारी, यज्ञेश पाण्डेय, दीनानाथ चौरसिया, मो. सलीम, अरविन्द यादव, रन बहादुर यादव, राजेन्द्र चौधरी, गुलाम गौस, सूर्यमणि यादव, मो. शकील, इन्द्रावती शुक्ल, कुमुकुम भारती, अभिषेक, जावेद, रत्नाकर धुसिया, अखिलेश, रामचन्द्र यादव, विजय विक्रम आर्य, चिन्ता यादव, इन्द्रसेन यादव, अब्दुल कलाम, अमर अग्रहरि, राम प्रकाश चौधरी, हनुमान गौड़, अमित गौड़, पारस यादव, घनश्याम यादव, मुरली पाण्डेय, रामशंकर निराला, निसार अहमद, अब्दुल मोईन, फूलचन्द्र श्रीवास्तव, के साथ ही पार्टी के अनेक पदाधिकारी शामिल रहे.

Please share this news