Thursday , 24 June 2021

दिल्ली पुलिस एनकाउंटर टीम को मिली पहली लेडी सिंघम

नई दिल्ली (New Delhi) . दिल्ली पुलिस (Police) ने कई मामलों में वॉन्टेड एक गैंगस्टर रोहित चौधरी और उसके साथी को सेंट्रल दिल्ली के प्रगति मैदान इलाके में स्थित भैरों मार्ग पर हुए एनकाउंटर के बाद गिरफ्तार करने में कामयाबी पाई है. पुलिस (Police) ने दावा किया कि दिल्ली में यह पहली बार है जब कोई महिला पुलिस (Police) कर्मी एनकाउंटर टीम में शामिल थी. पुलिस (Police) ने गुरुवार (Thursday) को बताया कि रोहित चौधरी पर चार लाख रुपये का इनाम था, जबकि उसके साथी प्रवीण उर्फ टीटू पर दो लाख रुपये का इनाम घोषित था.

पुलिस (Police) ने बताया कि दोनों को मुठभेड़ के दौरान पैर में गोली लगी है और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस (Police) ने बताया कि दोनों मकोका (महाराष्ट्र (Maharashtra) संगठित अपराध नियंत्रण कानून) के तहत हत्या (Murder) , हत्या (Murder) की कोशिश और लूटपाट की कई घटनाओं में वॉन्टेड थे. उन्होंने बताया कि दिल्ली पुलिस (Police) की अपराध शाखा को खुफिया सूचना मिली थी कि बुधवार (Wednesday) रात रोहित चौधरी और उसका साथी नीली कार में सवार होकर भैरों मार्ग से गुजरेगा. इसके बाद उन्हें पकड़ने के लिए भैरों मार्ग पर पार्किंग के नजदीक पुलिस (Police) ने जाल बिछाया.

वरिष्ठ पुलिस (Police) अधिकारी ने बताया कि गुरुवार (Thursday) तड़के करीब चार बजकर 50 मिनट पर पुलिस (Police) को रिंग रोड की तरफ से एक नीली कार आती दिखाई दी, उन्होंने बैरिकेड लगाकर कार को रोकने की कोशिश की, लेकिन कार चालक ने बैरिकेड में टक्कर मार दी और भागने की कोशिश के दौरान पुलिस (Police) पर गोलीबारी शुरू कर दी. इस के बाद पुलिस (Police) टीम ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए आत्मरक्षा में गोली चलाई.

पुलिस (Police) ने बताया कि गोलीबारी के दौरान एक गोली पुलिस (Police) उपायुक्त पंकज की बुलेट प्रूफ जैकेट में लगी, जबकि गैंगस्टर और उसके साथी द्वारा चलाई गई गोलियों में से एक गोली सब-इंस्पेक्टर प्रियंका शर्मा की बुलेट प्रूफ जैकेट पर लगी. प्रियंका दिल्ली पुलिस (Police) की पहली महिला पुलिस (Police) कर्मी हैं जो एनकाउंटर टीम में शामिल हुई हैं.

Please share this news