Friday , 14 May 2021

कोरोना की अब खैर नहीं, आज से शुरू हुआ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान

भोपाल (Bhopal) .मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना के खिलाफ वैक्सीनेशन आज शुरू हो गया. पहले दिन 150 सेंटर्स पर फ्रंट लाइन वर्कर्स को टीके लगाए जा रहे हैं. प्रत्येक सेंटर पर 100 फ्रंट लाइन वारियर्स के टीकाकरण का टारगेट तय किया है. इस हिसाब से पहले दिन 15 हजार लोगों को वैक्सीन का पहला डोज दिया जाएगा. प्रधानमंत्री के संदेश खत्म हो गया है. भोपाल (Bhopal) में सुबह 11 बजे मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान जेपी अस्पताल पहुंच गए हैं. सुबह सवा 11 बजे भोपाल (Bhopal) के हमीदिया अस्पताल में पहला टीका सफाई कर्मी जितेंद्र यादव को लगा. वहीं, इंदौर (Indore) में सफाईकर्मी आशा पवार को पहला टीका लगा.

जिन्हें पहला टीका लगेगा, वे खुश हैं…

इंदौर (Indore) की सफाई कर्मचारी आशा पवार ने कहा कि मुझे कोई घबराहट नहीं है. बल्कि खुश हूं. इंदौर (Indore) के ही फ्रंट लाइन वारियर्स ने टीका लगने से पहले कहा कि कोरोना के समय लंबे समय तक ड्यूटी की है. इस बीमारी से बचने के लिए यह टीका तो सभी को लगवाना ही है. वैसे तो सुबह 8 बजे मुझे आने के लिए कहा है, लेकिन मैं सुबह 7 बजे ही पहुंच जाऊंगी. भोपाल (Bhopal) के हरिदेव कहते हैं कि करीब ढ़ाई साल से जेपी अस्पताल में ड्यूटी कर रहा हूं. कभी नहीं सोचा था कि एक दिन ऐसा भी आएगा कि देश के प्रधानमंत्री से बात करने का मौका मिलेगा. मुझे कलेक्टर (Collector) अविनाश लवानिया (हरि ने अफसर के नाम के साथ जी भी लगाया) ने बुलाकर कहा कि पहली वैक्सीन आपको (हरि सिंह) लगेगी. मैंने तत्काल हामी भर दी.
ग्वालियर (Gwalior) में पहला वैक्सीन सफाई कर्मचारी रघुवीर, दूसरा डीन एसएन आयंगर और तीसरा जेएएच अधीक्षक आरएस धाकड़ को लगाया गया है. जबलपुर (Jabalpur)में हेल्थ सेलीब्रिटी के तौर पर लोक स्वास्थ्य परिवार कल्याण के पूर्व डायरेक्टर केके शुक्ला (71) और उनकी पत्नी रीता शुक्ला के नाम का चयन हुआ है. हेल्थ सफाई कर्मी के बाद विक्टोरिया जिला अस्पताल में डॉक्टर (doctor) केके शुक्ला को वैक्सीन लगाया जाएगा. वहीं सीएमएचओ डॉक्टर (doctor) रत्नेश कुररिया तीसरे वैक्सीन लगवाने वाले सेलीब्रिटी होंगे. मेडिकल कॉलेज में सफाई कर्मी के बाद डीन डॉक्टर (doctor) पीके कसार को टीका लगेगा. इसके अलावा सफाईकर्मी बैसाखू पनहगार को टीका लगेगा.

पहला फेज 22 तक चलेगा

पहले फेज में पहली खुराक देने के लिए पहले फेज में आज से 22 जनवरी के बीच 150 चिन्हित सेशन साइट पर उच्च शासकीय स्वास्थ्य संस्थाओं (डीएच, सीएच, सीएचसी) से जुड़े 57 हजार स्वास्थ्य कर्मचारियों को टीका लगाया जाएगा. दूसरे फेज में 23 से 30 जनवरी तक 50 हजार 715 केंद्रीय और निजी स्वास्थ्यकर्मियों का चिन्हित 172 सेशन साइट पर टीकाकरण होगा. तीसरे फेज 31 जनवरी से 6 फरवरी तक शेष रहे 55 हजार सरकारी व निजी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का कुल 200 चिन्हित सेशन साइट पर टीकाकरण होगा. चौथे फेज में 7 से 13 फरवरी तक छूट गए स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को कवर करने के लिए मॉपअप गतिविधि संचालित होगी. इसमें कुल 200 साइट पर 55 हजार स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण का लक्ष्य है. राज्य के लिए कोवीशील्ड वैक्सीन मिली हैं. भोपाल (Bhopal) में 94 हजार, इंदौर (Indore) में एक लाख 52 हजार, जबलपुर (Jabalpur)में एक लाख 51 हजार और ग्वालियर (Gwalior) में एक लाख 9 हजार 500 डोज दिए जा चुके हैं.

यह हैं पहले चरण में

चरणबद्ध सत्र कार्य-योजना में प्राथमिक समूह के पहले फेज में 4 लाख स्वास्थ्य कार्यकर्ता हैं. सरकारी और निजी स्वास्थ्यकर्मी और महिला-बाल विकास विभाग की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता शामिल हैं. इसके बाद फेज-1 में फ्रंट लाइन वर्कर्स, जिनकी संख्या करीब 4 लाख है. इनमें रक्षा मंत्रालय, गृह मंत्रालय, नगरीय विकास मंत्रालय, पुलिस (Police) और राजस्व विभाग के कर्मचारी शामिल हैं. इसके बाद फेज-1 के प्राथमिकता समूह में प्राथमिकता ग्रुप है, जिसमें करीब 1.7 करोड़ 50 वर्ष से अधिक आयु के ऐसे लोग शामिल हैं, जिन्हें गंभीर बीमारियां जैसे डायबिटीज, बीपी आदि हैं, उनका टीकाकरण होगा.

Please share this news