Thursday , 13 May 2021

राजस्थान में आज से होगा कोरोना वैक्सीनेशन का आगाज


जयपुर (jaipur) . देशभर में 16 जनवरी से कोविड-19 (Covid-19) वैक्सीनेशन का शुभारंभ किया जा रहा है. प्रदेश में वैक्सीनेशन को लेकर तैयारियां पूर्ण कर ली गई है. राज्य में 161 सत्र स्थलों के अतिरिक्त जयपुर (jaipur)जिले के 6 सत्र स्थलों पर होने जा रहे कोविड-19 (Covid-19) वैक्सीनेशन के लिए वैक्सीन की खेप अधिकतर सत्र स्थलों पर पहुंच चुकी है. चिकित्सा विभाग के मुताबिक 13 जनवरी तक राजस्थान (Rajasthan)को दो कंपनियों के करीब 5 लाख 63 हजार वैक्सीन डोज प्राप्त हुए हैं. जिसमें स्टेट वैक्सीन स्टोर, जयपुर (jaipur)को सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोवीसिल्ड के 4,43,000 और भारत बॉयोटेक की को-वैक्सीन के 20,000 डोज मिले है. वहीं स्टेट वैक्सीन स्टोर, उदयपुर (Udaipur) को 1,00,500 डोज उपलब्ध कराएं गए है.

राज्य में कोरोना वैक्सीनेशन का वितरण दो स्थानों से किया गया है. उदयपुर (Udaipur) संभाग के जिलों में वैक्सीन का वितरण स्टेट वैक्सीन स्टोर उदयपुर (Udaipur) से किया गया है. जबकि राज्य के अन्य संभागों के जिलों में वैक्सीन का वितरण स्टेट वैक्सीन स्टोर, जयपुर (jaipur)से किया गया है. वैक्सीन वितरण कार्य 14 जनवरी से किया गया है. वितरण के लिए सभी जिलों से वैक्सीन वैन, दो चालक व आरसीएचओ अथव उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी, स्वास्थ्य अधिकारी और पुलिस (Police)कर्मी को सबंधित स्टेट वैक्सीन स्टोर बुलाया गया था. 16 जनवरी से प्रारंभ होने वाली वैक्सीनेशन प्रक्रिया में लाभार्थी को 0.5 एमएल की पहली खुराक दी जाएगी.

पहली खुराक के 28 दिन बाद दूसरी खुराक भी उसी कंपनी की 0.5 एमएल दी जाएगी. उन्होंने बताया कि वैक्सीनेशन कोविड-19 (Covid-19) वैक्सीनेशन में 2 साईट इन्टरएक्टिव होंगी. ये इंटरएक्टिव सैशन साईट जयपुर (jaipur)के एसएमएस हॉस्पिटल व अजमेर के जेएलएन मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में होंगी.चिकित्सा विभाग के मुताबिक कोरोना वैक्सीनेशन के दौरान अन्य स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित ना हों इसके लिए सप्ताह में केवल 4 दिन वैक्सीनेशन किया जाएगा. जिसमें गुरुवार (Thursday) , रविवार (Sunday) व राजकीय अवकाश के दिन वैक्सीनेशन नहीं किया जाएगा. उन्होंने बताया कि 31 जनवरी तक 161 सत्र स्थल पर प्रतिदिन के अनुसार टीकाकरण किया जाएगा.कोविड-19 (Covid-19) वैक्सीनेशन के लिए कोविन सॉफ्टवेयर में राज्य से छह लाख से अधिक लाभार्थियों का डेटा 14 जनवरी 2020 की शाम तक अपलोड किया जा चुका है.

जिसमें सरकारी, निजी व केन्द्रीय मंत्रालयों के हेल्थ वर्कर्स सम्मलित है. इसमें 4,87,381 राज्य के सरकारी व निजी संस्थानों के लाभार्थी है वहीं 6758 केन्द्रीय मंत्रालयों के लाभार्थी है. जबकि 1,01,761 फ्रंटलाईन वर्कर्स का भी डेटा अब तक अपलोड हो चुका है. चिकित्सा मंत्री ने बताया कि प्रथम चरण में 3345 सरकारी चिकित्सा संस्थानों एवं 2969 निजी क्षेत्र के संस्थानों को वैक्सीनेशन के लिए चिन्हित किया गया है. इनमें से 3736 सत्र स्थल की जानकारी को कोविन सॉफ्टवेयर में अपलोड किया गया है.

Please share this news