Tuesday , 13 April 2021

कांग्रेसियों ने उत्साह से मनाया स्थापना दिवस

बिलासपुर (Bilaspur) . जि़ला कांग्रेस कांग्रेस कमेटी ने कांग्रेस कार्यालय में पार्टी की 136 वीं स्थापना दिवस उत्साह और उमंग से म नाया. स्थापना दिवस पर कांग्रेस नेताओं ने केक काटा, लोगों के बीच मिठाई का वितरण किया. साथ ही एक दूसरे को गले लगाकर खुशी का इजहार भी किया.

स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में कांग्रेस नेताओं ने उपस्थित लोगों को संबोधित किया. प्रदेश उपाध्यक्ष अटल श्रीवास्तव ने कहा कि स्वतंत्रता सेनानियों के त्याग और बलिदान से देशवासियों को अनमोल आजादी मिली. सेनानियों ने आज़ादी की जुनून में घर – परिवार छोड़ा. अपना जीवन भारत माता के चरणों में अर्पित किया. आज हमे अपने सेनानियों पर फक्र है. जिन्होने बेहतर भविष्य के लिए वर्तमान को अर्पित कर दिया. हमारी जिम्मेदारी है कि दुनिया की सबसे अनमोल आजादी के धरोहर को दिल से महसूर करें.

शहर अध्यक्ष प्रमोद नायक ने कहा कि अंग्रेज अफसर होते ङुए भी ए ओ ह्यूम ने भारतीयों के लिए संगठन का खड़ा किया. जनता को अधिकार दिलाने कांग्रेस पार्टी को तैयार किया. दुर्भाग्य है कि आज भाजपा और उसके प्रमुख नेताओं के अलावा देश के प्रधानमंत्री देश के एक एक उपक्रमो को बेच रहे हैं. नोटबन्दी,जीएसटी और लॉक डाउन, कृषि बिल जैसे कदम उठाकर जनता और देश को पतन की तरफ झोंक दिया है. कांग्रेस सिपाहियों की जिम्मेदारी बनती है कि ऐसे विघटकारी ताकतों को आइना दिखाए.

ग्रामीण अध्यक्ष विजय केशरवानी ने कहा कि भाजपा और आरएसएस के लोग कभी स्वतन्त्रता की लड़ाई में भाग नही लिए. अंग्रेजो के गुप्तचर आज हमें देशभक्ति का पाठ पढ़ा रहे है. सुनकर हंसी आती है. द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान सेना में भर्ती के लिए लोगो को उत्प्ररित करने वाले आरएसएस के लोग आज देशभक्ति का पाठ पढ़ा रहे है. लोगों को याद रखना चाहिए जब आरएसएस के लोग ऐसा कर रहे थे..उस समय कांग्रेस और उसके नेता जेल जा रहे थे. आज़ादी की लड़ाई लड़ रहे थे. विजय ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) और भाजपा नेताओं को आज़ादी की कीमत का अहसास नहीं है. यही कारण है कि भाजपा सरकार देश को सूली पर चढ़ाने की तैयारी कर रही है.

प्रदेश प्रवक्ता अभय नारायण राय ने कहा कि कांग्रेस का इतिहास 135 वर्ष पुराना है. कांग्रेस पार्टी ने कई उतार चढ़ाव देखे हैं. कांग्रेस की झोली में त्याग.तपस्या और बलिदान का इतिहास है. कांग्रेस ने सत्ता के लोभ में कभी अपने विचार-सिद्धांतो के साथ समझौता नही किया.,कांग्रेस की सोच देश के अंतिम व्यक्ति के विकास पर केन्द्रित रहती है. जबकि भाजपा और नरेंद्र मोदी चन्द उद्योगपति मित्रो के लिए देश की अर्थ व्यवस्था, जनता और स्वतन्त्रता पर कुठाराघात कर रहे हैं.,भाजपा को गांधी,नेहरू -सरदार का देश पसंद नहीं है. दरअसल उन्हें चाहिए गोडसे, सावरकर और गोलवलकर का विचार वाला देश चाहिए. जो संकीर्ण मानसिकता से महिमामण्डित है. कार्यक्रम को सैय्यद जफ़ऱ अली, भुवनेश्वर (Bhubaneswar) यादव, एस एल रात्रे, अनिल सिंह चौहान,ऋषि पाण्डेय ने भी सम्बोधित किया.

पूर्व पार्षद ने दिया 5 हजार का किश्त

इस दौरान पूर्व पार्षद चन्द्र प्रदीप बाजपेयी ने किसानों के लिए 5000 रुपये की तीसरी किश्त शहर अध्यक्ष प्रमोद नायक को दिया. कार्यक्रम के अंत मे कांग्रेस के वरिष्ठ सदस्य और अधिवक्ता उमेश मिश्रा के असमायिक निधन पर दो मिनट का मौन रखा गया.

Please share this news