Wednesday , 16 June 2021

सीएम ठाकरे अस्पताल में आग में मारे गए मरीजों के परिजनों को देंगे 5 लाख

मुंबई (Mumbai) . महाराष्ट्र (Maharashtra) की राजधानी मुंबई (Mumbai) में एक मॉल में बने अस्पताल में हुए आग्निकांड में 10 मरीजों की मौत मामले में प्रदेश सरकार ने बड़ा फैसला किया है. इस अस्पताल में कोरोना (Corona virus) के मरीजों का इलाज चल रहा था. शुक्रवार (Friday) को मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने घटनस्‍थल का दौरा किया. ठाकरे ने हादसों के कारणों की जानकारी ली और मृतकों के परिजनों के सामने शोक व्‍यक्‍त किया. उन्होंने इस हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को 5 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है. ठाकरे ने मृतकों के परिजनों से माफी भी मांगी. हालांकि ठाकरे ने मॉल में अस्पताल बनाने का बचाव किया.

ठाकरे ने कहा कि कोरोना के दौरान जरूरत के हिसाब से कोविड अस्पताल बनाए गए थे इसलिए मॉल में भी यह सुविधा थी. अस्पताल के लिए एनओसी पर उठे सवाल पर उद्धव ने कहा कि यह नियमों के अनुसार ही चल रहा था और अस्पताल चलाने के लिए 31 मार्च तक की एनओसी दी गई थी. साथ ही उन्होंने कहा कि इस हादसे में उन कोरोना मरीजों की मौत हुई है जो वेंटिलेटर पर थे. साथ ही उन्होंने कहा कि इस हादसे के लिए जो जिम्मेदार होंगे, उन पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी.

Please share this news