Saturday , 19 June 2021

ऑक्सीजन प्लांट, टेस्टिंग लैब जैसी सुविधाओं को दुरूस्त करें-सीएम


जयपुर (jaipur) . मुख्यमंत्री (Chief Minister) अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने मुख्यमंत्री (Chief Minister) निवास पर वीडियो कॉन्फ्रेस के माध्यम कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा बैठक को सम्बोधित करते हुए प्रदेश में कोविड-19 (Covid-19) महामारी (Epidemic) के संक्रमण की दूसरी लहर के आसन्न खतरे पर गंभीर चिंता व्यक्त करते हुए सभी स्वास्थ्य एवं प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे अपने पुराने अनुभव के आधार पर महामारी (Epidemic) के नियंत्रण के लिए उपलब्ध संसाधनों को उपयोग में लेें. अधिक टेस्टिंग, भीड़ पर नियंत्रण, मास्क पहनने, बार-बार हाथ धोने और सामाजिक दूरी के कोरोना से बचाव के नियमों की पालना में फिर से कड़ाई लाएं.

उन्होंने कहा कि एक सप्ताह में ही कोरोना संक्रमण की पॉजिटिविटी दर का 3 गुना (guna) बढ़ जाना बेहद चिंताजनक है. उन्होंने कहा कि बीते एक वर्ष के दौरान कोरोना से लडऩे का हमारा जो साझा अनुभव है, उसके आधार पर हमें प्रदेशवासियों को दूसरी लहर के खतरे से बचाना है. इसके लिए विभिन्न राजनीतिक दलों, सामाजिक संगठनों, कार्यकर्ताओं और धर्म गुरूओं आदि के साथ विचार-विमर्श करेंगे. उन्होंने कहा कि सभी पक्षों को साथ लेकर और आपसी समन्वय के साथ ही हम अब तक कोरोना से जंग को सफलतापूर्वक लड़ पाए हैं. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि प्रधानमंत्री के साथ सभी राज्यों की बैठक में यह बात सामने आई है कि पूरे देश में संक्रमण फिर से बढ़ रहा है और कई राज्यों में हालात बहुत अधिक चिंताजनक हो गये हैं. उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आने वाले दिनों में प्रदेश में संक्रमण की किसी भी गंभीर स्थिति से निपटने के लिए अतिरिक्त सावधानी बरतते हुए ऑक्सीजन प्लांट, टेस्टिंग लैब, क्वारेंटाइन (Quarantine) और कन्टेमेन्ट जोन जैसी सुविधाओं को दुरूस्त करें और आवश्यकतानुसार उपयोग के लिए तैयार रखें.

गहलोत ने कहा कि हम सबको को मिलकर यह सुनिश्चित करना होगा कि वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने में कोई लापरवाही नहीं बरतें. उन्होंने पुलिस (Police), स्थानीय निकाय सहित सम्बन्धित अधिकारियों को मास्क नहीं पहनने तथा बाजारों एवं अन्य सार्वजनिक जगहों पर भीड़-भाड़ की स्थिति उत्पन्न करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि एक बार फिर से आम लोगों को कोविड से बचाव के उपाय अपनाने के लिए समझाईश के उद्देश्य से व्यापक जागरूकता अभियान चलाया जाए. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि कोविड-19 (Covid-19) महामारी (Epidemic) के संक्रमण को बढऩे से रोकने के लिए हमें हर संभव उपाय करना होगा.

Please share this news