Monday , 10 May 2021

किसान आंदोलन से देश चिंतित-सीएम गहलोत


जयपुर (jaipur) . मुख्यमंत्री (Chief Minister) अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने आज जोधपुर (Jodhpur) के कृषि विश्वविद्यालय के द्वितीय दीक्षांत समारोह में वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिये बोलते हुए केन्द्र की मोदी सरकार पर अप्रत्यक्ष कटाक्ष करते हुए कहा कि दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन पर पूरा देश चिंतित है प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) (Prime Minister Narendra Modi) की सरकार किसानों की आय तभी दुगुनी कर सकती है जब देश के सभी राज्यों की सरकारों का भी इस नीति पर एक मत हो.

मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि कृषि और किसान पर कांग्रेस के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू के जमाने से लेकर श्रीमती इंदिरा गांधी, लालबहादुर शास्त्री, ने विशेष ध्यान दिया इंदिरा गांधी ने हरित क्रांति का नारा देकर कृषि क्षेत्र की प्रगति को आगे बढ़ाने का काम करते हुए किसानों की आय और देश को खाद्यान्न के क्षेत्र में संबल पर जोर दिया. कांग्रेस शासन में ही अकेले राजस्थान (Rajasthan)में पांच कृषि विश्वविद्यालयों की श्रृंखलाबद्ध स्थापना शुरू हुई जिनमें बीकानेर, जोधपुर (Jodhpur) , कोटा,जयपुर, जोबनेर है जहां कृषि विज्ञान ज्ञान पर आधारित शिक्षण कार्य हो रहा है.

गहलोत ने कहा कि कृषि में अनुसंधान जितना ज्यादा होगा उतना ही राज्य और देश को लाभ पहुंचेगा उन्होने केन्द्र की मोदी नीति पर सरकार पर एक बार ओर कटाक्ष किया कहा कि प्रगति के कदमों में नेहरू के जमाने से ही आईटी, आईआईटी निम्स जैसे संस्थानों की स्थापना शुरू हो गई थी मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने अपनी सरकार के वादे को भी किसानों से जोडते हुए कहा कि सरकार ने 15 साल तक बिजली की दरें फिक्स कर रखी है फ्रूड प्रोसेजिंग प्लान की भी स्वीकृति दी है कृषि प्रसव और निर्यात नीति बना रखी है कुल मिलाकर किसानों को कैसे प्रोत्साहान दे सके सरकार इसके लिए बजट में भी प्रोविजन दिए गए है राजस्थान (Rajasthan)में किसानों का समय समय पर सम्मान भी किया जा रहा है किसानों के हित के लिए सरकार ने दो हजार करोड़ का कृषि कल्याण कोष भी बनाया है सरकार हर प्रकार से किसान, उत्थान के लिए संकल्पबद्ध है. इस अवसर पर वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में प्रिसिपल स्रेकेटरी कुंजीलाल मीणा, विधायक व आला अफसर मौजूद रहे.

Please share this news