Friday , 14 May 2021

चीन अरुणाचल सीमा पर अस्सी के दशक से सड़क बना रहा है : भाजपा सांसद तापिर गाव


नई दिल्ली (New Delhi) . अरुणाचल प्रदेश से भाजपा सांसद (Member of parliament) तापिर गाव ने कहा है कि चीन अरुणाचल सीमा पर अस्सी के दशक से सड़क बना रहा है और चीन ने लोंग्जू से माजा तक रोड बनाई है. तापिर गाओ ने कहा कि राजीव गांधी सरकार के दौरान चीन ने तवांग में सुमदोरोंग चू घाटी पर कब्जा किया.

साथ ही कहा कि कांग्रेस शासन के दौरान सरकार ने बॉर्डर तक सड़क निर्माण नहीं किया और जो बाद में 3-4 किलोमीटर का एक बफर जोन बन गया. फिर इस बफर जोन पर चीन ने कब्जा कर लिया था. उन्होंने कहा कि चीन जो गांव बसा रहा है वह नई बात नहीं है और यह सब कांग्रेस से विरासत में मिला है.

अरुणाचल प्रदेश में कांग्रेस विधायक और पूर्व सांसद (Member of parliament) निनोंग ईरिंग ने कहा कि नाचो एरिया में ही कुछ वक्त पहले चीन ने पांच पोर्टर को अगवा कर लिया था. उन्होंने कहा कि चीन की हरकत पूरे अरुणाचल में तवांग से लेकर फिशटेल तक बढ़ी है. वह रोड बना रहे हैं, डैम बना रहे हैं, इंफ्रास्ट्रक्चर बना रहे हैं. हम लगातार केंद्र सरकार (Central Government)को यह कहते रहे हैं कि अरुणाचल प्रदेश की सीमा में चीनी हरकत बढ़ती जा रही है.

ऐसा पहले भी हुआ है कि कुछ एरिया में चीन के लोग एक किलोमीटर तक भी अंदर आ गए और फिर लोकल लड़कों ने उनके टैंट तोड़े. ईरिंग ने कहा कि डोकलाम विवाद के बाद चीन की हरकत ज्यादा बढ़ी है. उन्होंने कहा कि भाजपा नेता किरण रिजिजू के इलाके में भी यह सब हो रहा है. वह बोलते नहीं हैं, यह गलत है उन्हें बोलना चाहिए.

वहां की जनता कह रही है कि हमारे पूर्वजों का हटिंग ग्राउंड है, मेडिसिनल प्लांट भी वह परंपरागत तौर पर उन इलाकों से लेते रहे हैं, लेकिन अब चीन से वहां सब कब्जा कर लिया है जो पूरी तरह से अरुणाचल का हिस्सा है. उन्होंने कहा कि हमने केंद्र सरकार (Central Government)को कई बार कहा है लेकिन केंद्र सरकार (Central Government)इनकार करती रही. इस तरह तो चीन सारे इलाके को ही अपने कब्जे में ले लेगा. चीन का तो मकसद ही यही है.

इंडियन आर्मी के एक सीनियर अधिकारी के मुताबिक चीन ने पिछले कुछ सालों में लाइन ऑफ ऐक्चुअल कंट्रोल के पास ही कई ट्राइबल विलेज बना लिए हैं. इंडियन आर्मी इन्हें लेकर सतर्क है. एलएसी की पास इस तरह के 25-30 से ज्यादा विलेज बनाए गए हैं.

Please share this news