Wednesday , 16 June 2021

बिजिलेंस ने एई को रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा, सोलर प्लांट पास कराने के लिए मांग रहा था 10 हजार

उदयपुर (Udaipur) . भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो प्रतापगढ़ की टीम ने उदयपुर (Udaipur) स्थित विद्युत विभाग के सहायक अभियंता को 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार कर ‎लिया है. ‎बि‎जिलेंस की टीम ने यह जानकारी देते हुए बताया ‎कि सहायक अभियंता मुकेश गुप्ता परिवादी विष्णु सुथार से सोलर प्लांट पास करने और सोलर पॉवर बढ़ाने के एवज में रिश्वत की मांग कर रहा था.

मुकेश गुप्ता ने परिवादी को अपने कार्यालय के बाहर रिश्वत की राशि के साथ बुलाया, जहां उसे रंगे हाथों पकड़ ‎लिया गया. प्रतापगढ़ भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के एएसपी गोवर्धन लाल खटीक ने बताया कि खेरोदा निवासी विष्णु सुथार ने उससे रिश्वत मांगे जाने की शिकायत की थी. एसीबी के सामने उपस्थित होकर उन्होंने अजमेर विद्युत वितरण निगम के सहायक अभियंता मुकेश गुप्ता द्वारा 15000 की रिश्वत मांगने की शिकायत की थी. उन्होंने बताया ‎कि विष्णु सुथार ने सोलर प्लांट पास करवाने और सोलर पॉवर 20 किलो वॉट बढ़ाने के लिए फाइल लगाई थी. इसी फाइल को पास करने के एवज में मुकेश गुप्ता 15000 की रिश्वत मांग रहा था. एसीबी ने मुकेश गुप्ता की शिकायत पर मामले का सत्यापन किया.

इसमें रिश्वत मांगने की पुष्टि हुई तो परिवादी ने मुकेश गुप्ता 15000 से कम कर 10000 लेने की बता कही और वो राजी हो गया था. इसके बाद मुकेश गुप्ता ने रिश्वत की राशि के साथ परिवादी को कार्यालय के बाहर बुलाया. मुकेश गुप्ता ने परिवादी से रिश्वत की राशि के 10000 लेकर अपनी कार के डैशबोर्ड में रख दिए. इसी दौरान एसीबी की टीम ने दबिश देकर रिश्वत में ली गई राशि को बरामद करते हुए मुकेश गुप्ता को गिरफ्तार कर लिया. इस कार्रवाई में एसीबी प्रतापगढ़ हेडकांस्टेबल रंगलाल, एलडीसी सूरजप्रताप, दिनेश कुमार, मान सिंह भी मौजूद थे.

Please share this news