Thursday , 29 October 2020

नाबालिग दलित को 26 दिन बाद भी नहीं ढ़ूंढ पाई बाड़मेर पुलिस


बाड़मेर . बाड़मेर जिले के रागेश्वरी थाना अंतर्गत एक गांव मे दलित नाबालिग बालिका के अपहरण हुए 26 दिन बीत गए, लेकिन अब तक पुलिस (Police) खाली हाथ है. दरअसल, गत 21 अगस्त को घर में सो रही दलित नाबालिग बालिका का अपहरण हो गया था. इसके बाद उसके परिजनों ने जिला मुख्यालय पहुंचकर कार्यवाहक अतिरिक्त पुलिस (Police) अधीक्षक पुष्पेंद्र सिंह आढा को ज्ञापन सौपकर न्याय की गुहार लगाई है.

पीड़ित पिता ने कहा कि बीते 21 अगस्त को घर में सो रही उसकी 16 वर्षीय नाबालिग को उसी गांव का अशोक कुमार जाट गाड़ी में उठाकर ले गया. इस पूरी वारदात को अंजाम देने में आरोपी अशोक कुमार की बहन संगीता भी शामिल है. इस पूरे घटनाक्रम को लेकर रागेश्वरी थाने में एससी-एसटी व पॉक्सो एक्ट के तहत मामला भी दर्ज है, लेकिन 26 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस (Police) ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है.

अब पीड़ित दलित परिवार ने अतिरिक्त पुलिस (Police) अधीक्षक को ज्ञापन सौंपकर मामले का खुलासा कर बेटी को दस्तयाब करने और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है. इस पर कार्यवाहक अतिरिक्त पुलिस (Police) अधीक्षक पुष्पेंद्र सिंह आढ़ा ने कहा कि इस पूरे मामले की जांच गुडामालानी सीओ कर रहे हैं. जल्द ही पूरे मामले का पर्दाफाश कर नाबालिग को दस्तयाब किया जाएगा. फिलहाल मामले की जांच जारी है.