Monday , 19 April 2021

राजस्थान में किसान समर्थन में उतरेंगे अशोक गहलोत और सचिन पायलेट

नई दिल्ली (New Delhi) . मुख्यमंत्री (Chief Minister) अशोक गहलोत (Ashok Gehlot), कांग्रेस राजस्थान (Rajasthan)प्रमुख गोविंद सिंह डोटासरा और पूर्व उपमुख्यमंत्री (Chief Minister) सचिन पायलट की अगुवाई में कांग्रेस पार्टी की राजस्थान (Rajasthan)इकाई रविवार (Sunday) को जयपुर (jaipur)के शहीद स्मारक में हाल ही में पारित किए गए फार्म कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन करेगी. हजारों किसान किसान उत्पादन व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) अधिनियम, 2020 के खिलाफ विरोध कर रहे हैं, मूल्य आश्वासन और फार्म सेवा अधिनियम, 2020 पर किसान (सशक्तीकरण और संरक्षण) समझौता और आवश्यक वस्तु (संशोधन) अधिनियम 2020 का दावा है कि ये कानून कॉर्पोरेट खेती की अनुमति देते हैं और कृषि क्षेत्र में बहुराष्ट्रीय कंपनियों के लिए फायदेमंद होंगे. इतने कम तापमान के बीच सड़कों पर नए साल मनाने के लिए किसानों को मजबूर करने के लिए गहलोत ने गुरुवार (Thursday) को केंद्र पर हमला किया था. उन्होंने ट्वीट कर कहा, “यह दुख की बात है कि हमारे किसान भाई और बहन, जो विरोध कर रहे हैं, नए साल का स्वागत सड़कों पर और घरों से दूर करेंगे. एक संवेदनशील, उत्तरदायी सरकार ऐसा कभी नहीं होने देगी!

राजस्थान (Rajasthan)सरकार एक सप्ताह का अभियान चलाएगी, जिसका नाम है- ‘किसान बचाओ-देश बचाओ’ जिसके तहत राज्य के मंत्री, पार्टी कार्यकर्ता और जनप्रतिनिधि तीनों कानूनों की वापसी की मांग के लिए राज्य के गांवों का दौरा करेंगे. किसान और केंद्र सात जनवरी को सातवें दौर की चर्चा के लिए बैठेंगे. फार्म यूनियनों के नेताओं ने मांगें पूरी न होने पर दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन तेज करने की चेतावनी दी है. कृषि नेताओं ने कहा है कि अगर सरकार द्वारा कानूनों को निरस्त नहीं किया गया तो 6 जनवरी से विरोध प्रदर्शन दो सप्ताह के लिए शुरू हो जाएगा. किसान अधिकार कार्यकर्ता और स्वराज इंडिया के प्रमुख योगेंद्र यादव ने शनिवार (Saturday) को कहा, यह हमारा अल्टीमेटम है. यदि सभी मुद्दों को हल नहीं किया जाता है और हमारी मांगें गणतंत्र दिवस से पूरी नहीं होती हैं, तो हम दिल्ली में प्रवेश करना शुरू कर देंगे. सरकार कह रही है कि 50% मांगों को पूरा किया गया है. लेकिन सरकार ने हमारी सबसे बड़ी मांगों को पूरा करने के कोई संकेत नहीं दिखाए हैं.

Please share this news