Thursday , 26 November 2020

जो बाइडन की टीम में एक ओर भारतवंशी माला अडिगा की हुई एंट्री

वॉशिंगटन . हाल ही में संपन्न हुए अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में भारतीयों की मौजूदगी बड़ी संख्या में रही है. इसके बाद राष्ट्रपति चुने गए डेमोक्रेट उम्मीदवार जो बाइडन ने अपनी टीम में एक भारतवंशी को जगह दी है. उन्होंने भारतीय मूल की माला अडिगा की नियुक्ति अपनी पत्नी जिल बाइडन की पॉलिसी निदेशक के तौर पर की है. हालांकि, राजनीतिक सफर के दौरान अडिगा बाइडन परिवार के साथ काफी लंबे वक्त से जुड़ी रही हैं. उन्होंने इसके पहले पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ भी काम किया था. इलिनॉय की माला अडिका ग्रिनेल कॉलेज, यूनिवर्सिटी ऑफ मिनेसोटा स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ और यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो लॉ स्कूल से ग्रेजुएट हैं. खास बात है कि ओबामा के चुनावी अभियान में जुड़ने से पहले माला क्लर्क और एक शिकागो में लॉ फर्म के लिए काम करती थी. उन्होंने एसोसिएट एटॉर्नी जनरल के काउंसल के रूप में ओबामा प्रशासन में काम करना शुरू किया था. साथ ही माला नेशनल सिक्युरिटी में ह्यूमन राइट्स डिपार्टमेंट का नेतृत्व भी कर चुकी हैं.

माला इसके पहले जिल बाइडन की वरिष्ठ सलाहकार और बाइडन-कमला हैरिस के अभियान की वरिष्ठ पॉलिसी सलाहकार रह चुकी हैं. इसके पहले वह बाइडन फाउंडेशन में हायर एजुकेशन और मिलिट्री फैमिली की निदेशक हैं. माना जा रहा है कि नई जिम्मेदारी मिलने के बाद उन्हें यह पद छोड़ना होगा. क्योंकि वह फेडरल एडमिनिस्ट्रेशन का हिस्सा बन जाएंगी. माला के अलावा बाइडन ने व्हाइट हाउस सीनियर स्टाफ के लिए चार और नामों की घोषणा की है. बाइडन-हैरिस अभियान की वाइस चेयरपर्सन रहीं कैथी रसेल को प्रेसिडेंशियल पर्सनल के व्हाइट हाउस ऑफिस का निदेशक बनाया गया है.लुइसा टैरेल को विधान मामलों के व्हाइट हाउस का निदेशक नियुक्त किया गया है. जबकि, कार्लोस एलीजोंडो को व्हाइट हाउस के सामाजिक सचिव की जिम्मेदारी दी गई है. उम्मीद की जा रही है कि बाइडन जल्द ही नई नियुक्तियों की घोषणा कर सकते है. इन नई घोषणाओं में भी कई भारतवंशियों का नाम शामिल हो सकता है. मीडिया (Media) रिपोर्ट्स बताती हैं कि डॉक्टर (doctor) विवेक मूर्ति, बाइडन के स्पेशल हेल्थ एडवाइजर बन सकते हैं.