Tuesday , 9 March 2021

और जब शव से लिपट कर रोने लगा लंगूर

गिरिडीह . संवेदनशीलता ही इंसान और जानवर में अंतर करती है, लेकिन आपको जानकार आश्चर्य होगा कि जानवरों में भी संवेदनाएं होती हैं वे भी इंसान की तरह खुश होते हैं, हंसते हैं, सहानुभूति दिखाते हैं गिरीडीह जिले की से ये वीडियो जहां एक बेजुबान की संवेदना जुबान वाले पर भारी दिखी. दरसल गिरीडीह के बेंगाबाद थाना क्षेत्र तेलोनारी पंचायत में एक मजदूर पेड़ काट रहा था और इसी दौरान एक भारी-भरकम पेड़ उस पर गिर गया. पेड़ गिरने से मजदूर की मौत हो गई. उसके साथ काम कर रहे अन्य साथियों ने पेड़ हटाकर मजदूर को बाहर निकाला लेकिन तब उसने दम तोड़ दिया.

इसी दौरान एक लंगूर पेड़ से उतरकर नीचे आया और शव के पास बैठकर रोने लगा. लंगूर घंटों मजदूर के शव को सहलाता रहा. मानो लंबा रिस्ता हो दोनो के बीच जैसे सदियों से जानते हो दोनो एक दूसरे को. लंगूर की आंखों नम थी. जब ग्रामीण मृत मजदूर के शव को उठाकर एंबुलेंस (Ambulances) से ले जाने लगे तब लंगूर भी उसके पीछे-पीछे चल पड़ा. हम देखते रहे. तब तक जब तक एंबुलेंस (Ambulances) और लंगूर आंखों से ओझल नहीं हो गया.

पता नहीं यह कौन सा रिश्ता था. हम भी यही सोचने पर मजबूर हैं.बताया जा रहा है कि लातेहार के बेंदी से कुछ मजदूर ठेकेदारी पर पेड़ काटने के लिए बेंगाबाद से परसन आए थे. पिछले 5 दिनों से पेड़ काटने का काम चल रहा था. मृतक के साथियों ने बताया कि उसके दो छोटे-छोटे बच्चे हैं. एएसआई सुनील कुमार सिंह का कहना है कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. परिजनों के आवेदन के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी. परिजनों को उचित मुआवजा दिलाने की कोशिश की जाएगी.

Please share this news