Sunday , 27 September 2020

हाईकोर्ट बैंच स्थापना की मांग को लेकर अधिवक्ताओं ने किया कार्य बहिष्कार, कलक्टर को राज्यपाल के नाम ज्ञापन

उदयपुर (Udaipur). बार एसोसिएशन, उदयपुर (Udaipur) के समस्त अधिवक्ताओ ंने राजस्थान (Rajasthan) उच्च्च न्यायालय की मांग को लेकर किये जाने वाले हर माह की सात तारीख के आन्दोलन के तहत सोमवार (Monday) को अदालती कार्य का बहिष्कार कर न्यायिक कार्य नहीं किया. इस दौरान न्यायालय में सरकार (Government) की एडवाइजरी के अनुसार सांकेतिक धरना दिया गया  तथा राज्यपाल के नाम कलकटर को ज्ञापन दिया गया.
बार एसोसिएशन के अध्यक्ष मनीष शर्मा ने बताया कि बार एसोसिएशन के अधिवक्तागण न्यायालय परिसर में सरकार (Government) की एडवाइजरी के अनुसार धरने पर बैठे, और मांग का समर्थन किया. जिनको संभागीय हाईकोर्ट बैंच संघर्ष समिति के अध्यक्ष रमेश नंदवाना, पूर्व महासचिव शान्तिलाल पामेचा, पूर्व अध्यक्ष रामकृपा शर्मा,  भरत कुमार वैष्णव, अध्यक्ष मनीष शर्मा ने संबोधित किया.

धरना स्थल पर बार एसोसिएशन के उपाध्यक्ष नीलांष द्विवेदी महासचिव चक्रवर्ती सिंह राव सचिव राजेश शर्मा  वित्त सचिव पृथ्वीराज तेली पुस्तकालय सचिव धीरज व्यास पूर्व अध्यक्ष भरत जोशी, फतेह सिंह राठौड, बजरंग सिंह राणावत, शिव कुमार उपाध्याय, भंवर सिंह राव हरीश पालीवाल सैयद हुसैन बंटी मौजूद रहे. अध्यक्षता  पूर्व संयोजक एवं वरिष्ठ अधिवक्ता शांतिलाल चपलोत ने की.

राज्यपाल के नाम दिया ज्ञापन

उदयपुर (Udaipur) में राजस्थान (Rajasthan) उच्च न्यायालय की खण्डपीठ की मांग लेकर मेवाड बागड हाई कोर्ट संधर्ष समिति, ने राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौपा. जिला कलक्टर (District Collector) को हाई कोर्ट बेंच संघर्ष समिति व बार एसोसिएशन की ओर से ज्ञापन दिया गया. ज्ञापन में अब तक के आन्दोलन के साथ इस मांग की आवश्यकता पर प्रकाश डाला गया हैं.