Monday , 19 April 2021

प्रवासी मजदूरों के मसीहा अभिनेता सोनू सूद ने की थी अभिनेता अमित साध की मदद

मुंबई (Mumbai) . लॉकडाउन (Lockdown) में प्रवासी मजदूरों और जरूरतमंद लोगों के लिए मसीहा बनने वाले अभिनेता सोनू सूद शुरुआत से ही कहते आ रहे हैं कि वे खुद को कोई मसीहा नहीं मानते हैं. सोनू सूद ने अपने और प्रवासी मजदूरों के लॉकडाउन (Lockdown) संघर्ष पर किताब लिखी है, जिसका टाइटल है मैं मसीहा नहीं हूं.

सोनू सूद, साल 2020 में खुद को असल जिंदगी का सुपरहीरो साबित किया है. लेकिन आपको पता है कि सोनू सूद ने सिर्फ आम लोगों की ही नहीं, बल्कि बॉलीवुड (Bollywood) के सेलेब्स की भी मदद की है. इतना ही नहीं साल 2020 से पहले भी सोनू सूद ने कई नेक काम किए हैं. उन्हीं में से एक था अमित साध को फिल्मों में ब्रेक देना. जी हां, बॉलीवुड (Bollywood) अभिनेता अमित साध ने हाल ही में खुलासा किया कि फिल्मों में उनके करियर का पहला ब्रेक उन्हें सोनू सूद से ही मिला था.

अमित साध ने सोनू के वीडियो को री-ट्वीट करते हुए लिखा, यह बात बहुत लोग नहीं जानते हैं कि मुझे मेरा पहला ब्रेक सोनू भाई के जरिए मिला था. आज मैं जहां हूं, उसकी वजह वो हैं. यह अच्छाई जो वह अब कर रहे हैं, लोग जिस बारे में बात कर रहे हैं, वह ऐसी चीज नहीं है जो सिर्फ अभी सक्रिय हुई है. मुझे लगता है कि वह कई सालों से ऐसा कर रहे हैं. अमित साध के ट्वीट पर जवाब देकर सोनू सूद ने लिखा, भाई आप राज करने के लिए पैदा हुए हैं.

आपने अपनी किस्मत खुद लिखी है. मैं आपकी अद्भुत यात्रा में एक उत्प्रेरक बनने के लिए बस भाग्यशाली था. मुझे आप पर गर्व है मेरे भाई. अपने कैप में पंखों को जोड़ते रहें. इसके जवाब में अमित साध ने सोनू सूद का शुक्रिया करते हुए लिखा, सोनू भाई, आपके शब्दों के लिए शुक्रिया. यह मेरे लिए बहुत मायने रखते हैं. मैं आपको गर्व कराने के लिए और मेहनत करूंगा और सही दिशा और प्रेरणा देने के लिए आपका शुक्रिया.

बता दें कि सोनू सूद इन दिनों अपनी किताब पर फैंस की प्रतिक्रिया का इंतजार कर रहे हैं. अमित साध की बात करें तो उन्होंने अपने अभियन करियर की शुरुआत टीवी सीरियल ‘क्यों होता है प्यार’ से की थी. वह इस शो में लीड रोल में थे. इसके बाद उन्होंने 2010 में बॉलीवुड (Bollywood) की राह पकड़ी और 2012 में आई फिल्म ‘मैक्सिमम’ में उन्हें सोनू सूद के साथ काम करने का मौका मिला.

Please share this news