Saturday , 15 May 2021

80 फीसदी प्रधान ने नहीं किया चुनाव खर्च जमा, चुनाव जंग से हुए बाहर

मेरठ (Meerut) . मेरठ (Meerut) जिले में होने वाले पंचायत चुनावों में इस बार 80 प्रतिशत ग्राम प्रधान शा‎मिल नहीं हो सकेंगे. दरअसल, 80 प्रतिशत सदस्यों ने चुनाव खर्च नहीं जमा ‎किया है. इसके कारण ये सभी बीडीसी और जिला पंचायत सदस्य चुनावी जंग से बाहर हो गए. वहीं दूसरी तरफ यूपी में इस बार 59,074 की जगह 58,194 ग्राम पंचायतों में प्रधानी के वोट पड़ेगा.

हालां‎कि, ग्राम पंचायतों में वार्डों की संख्या कम हो गयी है, जिसमें 12,745 वार्ड कम हो गए हैं. ऐसे में 826 ब्लॉक प्रमुखों का चुनाव करने के लिए यूपी में 75 हजार 805 क्षेत्र पंचायत सदस्य चुने जाएंगे. इस संख्या पर नजर करें तो साल 2015 से अब ये 1,996 कम होंगे. इस मामले में पंचायती राज निदेशक किंजल ने बताया कि परिसीमन के बाद सा 2015 से अब तुलना करें तो ग्राम पंचायत वार्ड 7,44,558 से घटकर 7,31,813 रह गए हैं. वहीं उन्होंने बताया कि क्षेत्र पंचायत सदस्य भी 77,801 से कम होकर 75,805 ही रहेंगे. बता दें ‎कि यूपी के 75 जिलों में परिसीमन के बाद साल 2015 की तुलना में पांच सालों में पंचायतों का दायरा सिमट गया है. जिसके चलते जिला पंचायतों के 3120 वार्ड अब घटकर 3051 रह गए हैं. 880 ग्राम पंचायत शहरी क्षेत्र में मिल गयी हैं.

Please share this news