Wednesday , 14 April 2021

प्रदेश में पैदा होगी 3600 मेगावाट अतिरिक्त सोलर बिजली

भोपाल (Bhopal) . प्रदेश में अगले दो साल में सोलर एनर्जी से 3600 मेगावाट अतिरिक्त बिजली पैदा होगी. 2021 में प्रदेश में 6 बड़े सोलर पार्क शुरू होने जा रहे हैं, जिन्हें पिछले छह माह के भीतर केंद्र से मंजूरी मिल चुकी है. 2022 के अंत तक इन्हें पूरा करने का टारगेट है. इनमें से एक सोलर पार्क को एनटीपीसी और पांच को रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर लिमिटेड (रम्सल) और सोलर एनर्जी कार्पोरेशन ऑफ इंडिया (एसईसीआई) संयुक्त रूप से तैयार करेंगे. प्रदेशभर में अभी (दिसंबर 2020) तक 2400 मेगावाट बिजली सौर उर्जा से पैदा हो रही है, इसमें सबसे बड़ा 750 मेगावाट का योगदान रीवा (गुढ़) स्थित रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर पार्क का है. आगामी दो साल में सौर उत्पादन की कुल क्षमता मौजूदा स्थिति से ढाई गुना (guna) बढ़कर 6000 मेगावाट पहुंच जाएगी. मप्र उर्जा विकास निगम के मुताबिक प्रदेश में उपलब्ध खाली भूमि और सौर विकरण के हिसाब से 50 से 60 हजार मेगावाट सौर बिजली उत्पादन की संभावना है.

Please share this news